Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राष्‍ट्रपति-पीएम ने दी श्रद्धांजलि, गांधी और शास्त्री को किया याद

आज राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्‍त्री की जयंती है।

राष्‍ट्रपति-पीएम ने दी श्रद्धांजलि, गांधी और शास्त्री को किया याद
नई दिल्ली. देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की आज जयंती है। राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी को उनकी 147वीं जयंती पर याद कर रहा है। राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने गांधीजी को श्रद्धांजलि दी। रविवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजघाट पहुंचे और बापू को श्रद्धासुमन अर्पित किए।
गांधी के समाधि स्‍थल ‘राजघाट’ पर उप राष्‍ट्रपति हामिद अंसारी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, वरिष्‍ठ भाजपा नेता लालकृष्‍ण आडवाणी, केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू, दि ल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्‍टी सीएम मनीष सिसोदिया तथा कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने श्रद्धासुमन अर्पित किए। आज पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्‍त्री की जयंती भी है। उन्‍हें श्रद्धांजलि देने के लिए केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू, दिल्‍ली के सीएम व डिप्‍टी सीएम विजयघाट पहुंचे।
पीएम मोदी की मुहिम धीरे-धीरे रंग ला रही है और सरकार के मिशन स्वच्छ भारत का असर भी दिखने लगा है। अब पीएम नरेंद्र मोदी का मिशन 'स्वच्छ भारत' दो साल का हो गया है। दो अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत मिशन देश भर में व्यापक तौर पर एक आंदोलन के रूप में शुरू किया गया था। दो अक्बूटर 2019 तक भारत को गंदगी मुक्त करने का लक्ष्य है जो सपना देश के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने देखा है। उसकी मंजिल अभी तीन साल दूर है। प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर लोगों से स्वच्छ भारत अभियान में योगदान करने की अपील की।
राष्ट्रपिता और पूर्व पीएम लालबहादुर शास्त्री की जयंती आज, मोदी ने दी श्रद्धांजलि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की आज जयंती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजघाट जाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी।
वहीं सिक्किम देश का पहला राज्य बना है, जिसने पीएम मोदी के सपने को साकार कर दिया है। सरकार के मुताबिक 2 साल के भीतर देश के एक लाख गांव तरह खुले में शौच के अभिशाप से मुक्त हो गए हैं, लेकिन 44 फीसदी गांव अभी ऐसे हैं जहां मिशन अभी बाकी है। 31 अक्टूबर तक लक्ष्य है कि देश में गंगा के किनारे कोई ऐसी जगह नहीं बचेगी, जहां खुले में शौच करना मजबूरी रहे। देश के 24 जिलों में अब कोई खुले में शौच नहीं करता। अब तक 24 लाख से ज्यादा निजी शौचालय बनाए गए हैं।19 लाख टॉयलेट तैयार होने वाले हैं। 2 साल में 90 हजार सामुदायिक शौचालय बनाए गए हैं। देश के जो 4041 शहर चुने गए उनमें 405 खुले में शौच से आजाद हो चुके हैं। गुजरात और आंध्र प्रदेश के शहरों ने दो साल में इस मिशन को पूरा कर लिया है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद मानते हैं कि सिर्फ सरकार की कोशिश नहीं बल्कि जनता की जागरुकता से स्वच्छ भारत अभियान एक बड़ा मिशन बन गया है और जनता के सहयोग से ही इस मुहिम को कामयाबी मिल रही है। केंद्र सरकार ने अमिताभ बच्चन और सचिन तेंदुलकर को इस मिशन का ब्रॉन्ड एंबेस्डर बनाया है, जिससे देश का हर नागरिक इस मिशन से जुड़ने के लिए प्रेरित हो सके और इस आंदोलन का सिपाही बन सके।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Share it
Top