Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

शंकराचार्य बोले मत करो साईं बाबा की पूजा, हिंदुओं को बांटने को अंग्रेजों की चाल

हिन्दुओं के सबसे बड़े धर्मगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने एक विवादित बयान दिया है।

शंकराचार्य बोले मत करो साईं बाबा की पूजा, हिंदुओं को बांटने को अंग्रेजों की चाल
नई दिल्ली. हिन्दुओं के सबसे बड़े धर्मगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने एक विवादित बयान दिया है। शंकराचार्य ने शिरडी के साईं बाबा की पूजा को ही गलत बता दिया है। एक न्यूज चैनल से बात करते हुए शंकराचार्य ने कहा कि साईं बाबा की पूजा करना गलत है। उन्होंने साईं बाबा का मंदिर बनाने का भी विरोध किया।

अंग्रेजो की बांटने की साजिश-
उन्होंने कहा कि साईं बाबा कोई भगवान नहीं है जो उनकी पूजा की जाए। उन्होंने कहा कि साईं बाबा हिन्दू-मुस्लिम एकता का प्रतीक है तो फिर सिर्फ हिन्दू ही क्यों साई बाबा की पूजा करें। मुसलमान क्यों नहीं मानते साईं को? यह (प्रतीक मानने की बात) वहम है जो समाज में फैलाया गया है। ये ब्रिटेन की तरफ से हो रहा है। वे चाहते हैं कि भारत हिंदू प्रधान नहीं रहे।'
शंकराचार्य ने श्री साईं बाबा के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया है। स्वामी स्वरूपानंद की माने तो साईं को लेकर सिर्फ पैसे इकठ्ठा किया जा रहा है जबकि वो भगवान नहीं है उनका कहना है कि ये पैसा बटोरने की एक साजिश है। शंकराचार्य ने कहा, 'ये कहा जाता है कि साईं बाबा हिंदू मुस्लिम एकता का प्रतीक हैं तो ये तब प्रतीक होता जब हिंदुओं के साथ मुसलमान भी मानते हम्हीं क्यों माने ये एक भ्रम है। जो समाज में फैलाया जा रहा है।'
राम मंदिर से जोड़ा-
स्‍वामी स्‍वरूपानंद ने इस पूरे मसले को एक राजनातिक रंग देने की भी कोशिश की। शंकराचार्य ने कहा कि राम का मंदिर अयोध्‍या में बनाने का जो अभियान है, उससे ध्‍यान बंटाने के लिए साईं बाबा के नए-नए मंदिर बनाए जा रहे हैं। करोड़ों रुपए जुटाए जा रहे हैं। जो काम भगवान राम के लिए होना चाहिए, वह साईं के नाम पर हो रहा है।

नीचे की स्‍लाइड्स में पढ़िए, साईं ट्रस्‍ट की प्रतिक्रिया -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top