Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बच्ची ने लगाई गुहार, पीएम मोदी से कहा- ऐसे कैसे लाएंगे देश के लिए मेडल

दिल्ली: बच्ची ने लगाई गुहार, पीएम मोदी से कहा- ऐसे कैसे लाएंगे देश के लिए मेडल

बच्ची ने लगाई गुहार, पीएम मोदी से कहा- ऐसे कैसे लाएंगे देश के लिए मेडल

देश के प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी से एक नहीं कई बार बच्चों ने पत्र लिख गुहार लगाई है। ऐसा ही एक मामला दिल्ली में भी सामने आया है। जहां एक सात साल की बच्ची ने पीएम मोदी से अपने घर के पास स्थित पार्क को बचाने की गुहार लगाई है।

इस बच्ची का नाम नव्या है जो कि रोहिणी सेक्टर 8 में रहती है। नव्या ने पीएम मोदी को दो पन्नों में पत्र लिखा है। इस पत्र के माध्यम से नव्या प्रधानमंत्री से मांग करते हुए लिखती है कि पी एम अंकल केवल बिल्डिंग होगी और पार्क नहीं होगा तो कोई जिंदगी भी नहीं होगी।
कृपया कर के मेरे पड़ोस के पार्क को बचाइए,ये पार्क मेरी जिंदगी है। अगर हम खेलेंगे नहीं तो ओलिंपिक में मेडल कैसे लाएंगे। इसी तरह की कुछ बातें नव्या ने मोदी को लिखे पत्र में जिक्र किया है।
नव्या का कहन है कि जहां पार्क है वहां डीडीए बिल्डिंग बनाने की तैयारी कर रहा है। ऐसे में खेलने के लिए जगह नहीं बचेगी तो वह खेलेगी कहां। नव्या ने लिखा है कि मेरे घर के पास एक पार्क है जहां मैं रोज खेलने जाती हूं।
लेकिन पिछले एक महीने से वहां पर खेल नहीं पा रही हूं। हमें वहां खेलने से मना किया जा रहा है क्योंकि वहां एक कम्युनिटी सेंटर के लिए बहुमंजिला इमारत खड़ा किया जा रहा है। हम बेहद उदास हैं, अपने पत्र में नव्या ने एक उदास चेहरा भी बनाया है।
दूसरी क्लास में पढ़ने वाली इस बच्ची ने अपने घर के पास बने हनुमान मंदिर पार्क को बचाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा है। प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र के अंत में नव्या ने लिखा है कि मेरा जन्मदिन 17 सितम्बर को है मैं चाहती हूं कि आप मुझे बर्थ डे गिफ्ट दें।
इसके अलावे नव्या ने अपने वकील पिता धीरज सिंह की मदद से नव्या ने हाई कोर्ट में इस मामले को लेकर एक याचिका भी दाखिल की है। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए 9 अगस्त को हाई कोर्ट ने डीडीए, एनडीएमसी और एलजी ऑफिस को एक नोटिस भेज दिया है।
Next Story
Top