Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सीरियल किलर: 5 साल में किया 140 बच्चों का बलात्कार, रेप के बाद कर देता था टुकड़े

इतिहास में सीरियल किलिंग की घटनाएं काफी मशहूर हैं। दुनिया भर में ऐसे कई सीरियल किलर हुए हैं, जिन्होंने कई खौफनाक घटनाओं को अंजाम दिया है।

सीरियल किलर: 5 साल में किया 140 बच्चों का बलात्कार, रेप के बाद कर देता था टुकड़े

इतिहास में सीरियल किलिंग की घटनाएं काफी मशहूर हैं। दुनिया भर में ऐसे कई सीरियल किलर हुए हैं, जिन्होंने कई खौफनाक घटनाओं को अंजाम दिया है। आज हम आपको ऐसे ही एक सीरियल किलर के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने 140 बच्चों को मौत के घाट उतार दिया था।

इस खूंखार सीरियल किलर का नाम है लुइस अल्फ्रेडो गराविटो क्यूबिलोस। जिसे साल 1999 में पुलिस ने कोलंबिया में गिरफ्तार किया था। पुलिस पूछताछ में इस वहशी ने बच्चों की हत्या की बात कबूली थी। इस हत्यारे पर 172 मासूमों को मारने का केस चलाया गया, जिसमें से कुछ अभी भी चल रहे हैं।

यह भी पढ़ें- शादीशुदा गैर मर्द से संबंध बनाना महिलाओं को पड़ेगा भारी, सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ तय करेगी सजा

बताया जाता है कि ये साइको किलर 100 से भी हत्याओं का जिम्मेदार है। इसके द्वारा किए गए कत्लों की संख्या 400 तक हो सकती है।

8-16 साल के बच्चों को बनाता था शिकार

'द सन' की रिपोर्ट के मुताबिक, लुइस को दुनिया का सबसे खूंखार सीरियल किलर माना जाता है। इसलिए इसका नाम पड़ा ‘द बीस्ट’। लुइस द्वारा 5 सालों तक बच्चों के कत्ल का सिलसिला चलता रहा, जो 1999 में उसकी गिरफ्तारी के बाद थमा। इस हत्यारे ने ज्यादातर 8 से 16 साल के मासूमों को अपना शिकार बनाया।

ऐसे बनाता था शिकार

लुइस सड़कों पर रहने बच्चों को गिफ्ट्स देने का लालच देकर अपना दोस्त बनाता था, फिर उनकी हत्या कर देता था। लुइस बच्चों का विश्वास जीतने के लिए कभी स्ट्रीट वेंडर तो कभी साधू बन जाता था। इतना ही नहीं कई बार तो वह टीचर और चैरिटी वर्कर के तौर भी लोगों के बीच जाता था।

वो कई बार लोगों की सहानुभूति पाने के लिए अपंग भी बन चुका था। ये सब करने के बाद जब लोग उसके झांसे में आ जाते तो वह उन्हें लेकर लॉन्ग वॉक पर जाता और वहां सुनसान जगह देख रेप करने के बाद गला घोंटकर मार देता। इतना ही नहीं वो शव को टुकड़े-टुकड़े भी कर देता था, जिससे उसकी पहचान न की जा सके।

36 शव मिलने के बाद हुआ खुलासा

कोलंबिया पुलिस को पहली बार 1998 में परेरा शहर के कब्रिस्तान से 36 शव मिले थे। जिसके बाद पुलिस शक हुआ कि इसके पीछे किसी धार्मिक पंथ का हाथ है।

पुलिस ने मामले की जांच शुरु की और जब 12 साल की बच्ची से रेप के आरोप में पहली बार लुइस को गिरफ्तार कर उसके घर की तालाशी ली गई तो वहां से पीड़ितों के अखबारों की क्लिपिंग बरामद हुई।

यह भी पढ़ें- पद्मावती के खिलाफ करणी सेना लोगों को बुलाया चित्तौड़गढ़ बुलाया, दी ये चेतावनी

पुलिस के सामने कबूला जुर्म

पुलिस पूछताछ में लुइस ने देश के 54 शहरों में हत्या का जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस ने उसके बयान के आधार पर पीड़ितों के शव और कंकाल भी बरामद कर लिए। इन अपराधों के लिए उसे कोलंबियाई कानून के तहत 30 साल की सजा दी जा सकती थी। लेकिन उसने जांच में पुलिस की मदद की थी इसलिए उसे 22 साल की सजा दी गई।

बचपन में हुआ था शोषण

59 साल का ये साइको किलर कोलंबिया के जिनोवा में पैदा हुआ था। केस के दौरान उसने कोर्ट में बताया कि बचपन में उसका यौन शोषण किया गया था।
Next Story
Top