Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

वैज्ञानिकों का दावा, अगर 2 डिग्री और बढ़ा धरती का तापमान तो जलसमाधि ले लेगी पृथ्वी!

पृथ्वी का तापमान लगातार बढ़ता जा रहा है।

वैज्ञानिकों का दावा, अगर 2 डिग्री और बढ़ा धरती का तापमान तो जलसमाधि ले लेगी पृथ्वी!

बढ़ते प्रदूषण की खबरें तो आप आजकल पढ़ ही रहे होंगे लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि अगर इस तरह से प्रदूषण का स्तर बढ़ता गया तो पृथ्वी का क्या होगा? क्या आपने सोचा है कि हम आने वाली जेनेरेशन के लिए क्या छोड़कर जा रहे हैं? आइए आपको बताते हैं कि प्रदूषण का स्तर अगर बढ़ता रहा तो क्या हो सकता है।

वैज्ञानिकों की आम राय है कि 1950 से अभी तक के आंकड़े बता रहे हैं कि पृथ्वी का तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ चुका है। वैज्ञानिकों के मुताबिक तेजी से हो रहा औद्योगिकण बढ़ते प्रदूषण के लिए काफी हद तक जिम्मेदार है। बता दें कि तापमान का बढ़ता स्तर हमें पृथ्वी के मौसम में बदलाव के जरिए देखने को मिल रहा है।
दुनिया के सभी देशों को बढ़ते प्रदूषण की और तापमान की चिंता है। यही कारण है कि देशों को यह कहते हुए सुना गया है कि तापमान में लगातार हो रही वृद्धि को रोकने के लिए हमें एकजुट होकर काम करना होगा। वैज्ञानिकों का मानना है कि अगर पृथ्वी की बिगड़ती हालत को नहीं सुधारा गया तो अगले 50 से 100 वर्षों में पृथ्वी के जन-जीवन के लिए गंभीर चुनौती सामने आ सकती है।
ज्यादातर वैज्ञानिकों का मानना है कि अगर पृथ्वी का तापमान 2 डिग्री से बढ़कर 4 डिग्री हो गया तो जन-जीवन को इसका दुष्परिणाम झेलना पड़ सकता है।
1.अगर पृथ्वी का तापमान बढ़ गया तो पृथ्वी की हवाएं गर्म हो जाएंगी और पृथ्वी भी लू की चपेट में आ जाएगी।
2. वैज्ञीनिकों का दावा है कि अगर तापमान बढ़ता रहा तो समुद्र तल में यह इजाफा 0.7 से 1.2 मीटर तक होगा। इसके साथ ही समुद्री तटों पर लहरों की रफ्तार में भी इजाफा होगा। ऐसे में समुद्र तटों के किनारे जीवन-यापन मुश्किल हो जाएगा।
3. इसके साथ ही बढ़ते तापमान के कारण कई जगहों पर बाढ़ और सूखा देखने को मिलेगा जिससे की भूखमरी होगी। खतरनाक तूफानों की भी चपेट में पृथ्वी आ जाएगी।
Next Story
Share it
Top