Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

NIA का दावा, आइसिस संदिग्ध को मिली नाइक की संस्था से स्कॉलरशिप

राजस्थान के अबू अनस को जनवरी 2016 में गिरफ्तार किया गया था।

NIA का दावा, आइसिस संदिग्ध को मिली नाइक की संस्था से स्कॉलरशिप
नई दिल्ली. जाकिर नाईक की अगुवाई वाले इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) के वित्तपोषण एवं अन्य गतिविधियों की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने दावा किया कि आइसिस के संदिग्थ अबू अनस को अक्तूबर 2015 में इस फांउडेशन से 80,000 रुपये छात्रवृति के रूप में मिले थे।
एनआईए ने दावा किया कि आईआरएफ की फंडिंग की जांच से पता चला कि उसे इतनी बड़ी रकम मिली थी। एनआईए ने आरोप लगाया कि अनस ने सीरिया जाने की योजना बनाई थी। उसके खिलाफ इस साल जून में आरोपपत्र दायर किया और फिलहाल वह तिहाड़ जेल में है। एनआईए ने आरोप लगाया कि अनस ने सीरिया जाने की योजना बनायी थी। उसके खिलाफ इस साल जून में आरोपपत्र दायर किया और फिलहाल वह तिहाड़ जेल में है।
बता दें कि नाइक की संस्था आईआरएफ को केंद्र सरकार पिछले हफ्ते ही पांच साल के लिए प्रतिबंधित कर चुकी है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने भी आईआरएफ के खिलाफ आतंकवाद विरोधी कानून यूएपीए और आईपीसी की धारा 153 ए के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Share it
Top