Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

SC/ST Protection Act: भारत बंद के दौरान हिंसक घटनाओं की भाजपा ने की कड़े शब्दों में निंदा

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सपा, बसपा व अन्य कई दल दलितों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए हिंसा फैलाने और देश को बांटने का काम करने वालों का साथ दे रही हैं।

SC/ST Protection Act: भारत बंद के दौरान हिंसक घटनाओं की भाजपा ने की कड़े शब्दों में निंदा
X

भारतीय जनता पार्टी ने भारत बंद के दौरान उत्तर प्रदेश में हुई हिंसक घटनाओं की आज कड़े शब्दों में निंदा की। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कहा कि भारत बन्द के नाम पर घोर अराजकता के कृत्य से प्रदेश की जनता स्तब्ध है।

उन्होंने कहा कि सपा-बसपा गठबंधन की घोषणा के पश्चात आज प्रदेश को अराजकता व हिंसा में झोंकने का काम हुआ। इससे विरोधी दलों के नेतृत्व का हिंसा व अराजकता की आग में प्रदेश का जनता को झोंकने वाला चेहरा साफ हो गया है।

यह भी पढ़ें- जेटली से माफी मांगने पर कुमार विश्वास ने किया इनकार, केजरीवाल का माफीनामा कार्यकर्ताओं के साथ बताया धोखा

पाण्डेय ने आरोप लगाया कि विरोधी दल के लोगों का देश की न्याय व्यवस्था के प्रति अराजक प्रदर्शन देश की व्यवस्था को तोड़ने वाली ताकतों का कुत्सित, घिनौना व वीभत्स प्रयास है।
उन्होंने कहा कि आज देश का दलित, गरीब, पिछड़ा विकास की मुख्य धारा में शामिल होकर भारत के भविष्य निर्माण की ओर बढ़ रहा है।

अनुसूचित जाति व जनजाति की जागरूकता के कारण अब तक सपा, बसपा व कांग्रेस की वोट बैंक के लिए कोरे वादे व झूठे नारे देकर धोखा देने की राजनीति नाकाम हो रही है।
इन दलों की सत्ता में वापसी असंभव होती जा रही है, इसलिए ये दल दलितों का नाम बदनाम करते हुए देश में अराजकता फैलाने के कुचक्र में जुट गए हैं। इन दलों का कृत्य देशद्रोह व दलितों के साथ अन्याय है।

यह भी पढ़ें- मार्च में GST रेवन्यू का कलेक्शन 90,000 करोड़ रुपये रहा: वित्त सचिव

उन्होंने कहा कि बाबा साहब भीमराव रामजी आंबेडकर को भारत दिलाने के लिए लड़ाई लडने की बात रही हो अथवा अनुसूचित जाति व जनजाति के लोगों को संसद व विधानसभाओं में स्थान दिलाने की बात रही हो, भाजपा अकेली ऐसी पार्टी है, जिसने सदा दलितों व पिछड़ो की लड़ाई लड़ी है।

भाजपा ही दलितों की हितैषी है, इसका प्रमाण इससे मिलता है कि संसद में आधे से ज्यादा दलित सांसद भाजपा के हैं। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सपा, बसपा व अन्य कई दल दलितों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए हिंसा फैलाने और देश को बांटने का काम करने वालों का साथ दे रही हैं। देश विरोधी व दलित हितों के विरुद्ध कार्य करने वाले बसपा, सपा, कांग्रेस को दलित ही जवाब देंगे।

इनपुट भाषा

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story