Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सुप्रीम कोर्ट ने बजट पेश करने को रोकने पर दी हिदायत

कोर्ट ने 20 जनवरी को याचिका पर सुनवाई करने को कहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने बजट पेश करने को रोकने पर दी हिदायत
X
नई दिल्ली. केंद्र सरकार चुनाव से पहले पहली बार फरवरी में देश का एक आम बजट पेश करने वाली है। इस बात पर आपत्ति जताते हुए विपक्षी पार्टियों ने चुनाव आयोग के सामने विरोध प्रदर्शन किया। विपक्ष की मांग है कि बजट को चुनाव के बाद पेश किया जाए। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका डाली गई जिसमें कहा गया कि समय से पहले बजट लाना कानून के खिलाफ है। जिसपर कोर्ट ने अब अपनी बात रखी है। सुप्रीम कोर्ट ने बजट पेश होने से रोकने के मसले पर दी हिदायत दी है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 20 जनवरी को याचिका पर सुनवाई करने को कहा है।
बता दें कि बजट के खिलाफ प्रदर्शन मे विपक्षी पार्टियों में बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना भी शामिल है। आम बजट को टलवाने के लिए कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, डीएमके, जेडीयू, आरएलडी के नेता चुनाव आयोग पहुंचे थे। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों को देखते हुए देश के प्रमुख विपक्षी दलों ने 1 फरवरी को पेश होने वाले केंद्रीय बजट को टालने की मांग निर्वाचन आयोग से की थी। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका डाली गई जिसमें कहा गया कि समय से पहले बजट लाना कानून के खिलाफ है।
विपक्ष की आपत्ति के बाद चुनाव आयोग ने इस बारे में सरकार से जवाब तलब किया है। चुनाव आयोग ने कैबिनेट सचिव को चिट्ठी लिखकर इस मुद्दे पर उनकी टिप्पणी मांगी थी।
कैबिनेट सचिव की राय के बाद चुनाव आयोग इस मुद्दे पर कोई निर्णय लेगा। बजट पेश होने के ठीक तीन दिन बाद चुनावी मतदान शुरू हो जाएगा। विपक्ष कहता है कि कि बजट में लोक लुभावन घोषणाएं कर केंद्र सरकार मतदाताओं को ललचा-रिझा कर अवांछित लाभ उठा सकती है। विपक्ष के अनुसार यह आचरण चुनाव की आदर्श आचार संहिता के खिलाफ है। चुनाव आयोग से मिलने वाले दल में कांग्रेस, तृणमूल, समाजवादी पार्टी, बसपा, जनता दल युनाइटेड और लालू यादव की पार्टी आरजेडी के नेता शामिल थे।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट
पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story