Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शराबबंदीः कारोबारी और होटल मालिकों ने निकाले ये तोड़

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत 1 अप्रैल से हाईवे के किनारे शराब की बिक्री पर पाबंदी लागू हो गई है।

शराबबंदीः कारोबारी और होटल मालिकों ने निकाले ये तोड़
X
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत 1 अप्रैल से हाईवे के किनारे शराब की बिक्री पर पाबंदी लागू हो गई है। जिसके तहत राष्ट्रीय और राज्य हाईवे के आस-पास पांच सौ मीटर के दायरे में शराब की बिक्री पर पूरी तरह से प्रतिबंध लग गया है।
इस आदेश के तहत 500 मीटर के दायरे में आने वाले पांच सितारा होटलों, रेस्टोरेंट और मैरिज हाल तक में शराब पर बैन लग गया है।
जिस वजह से करीब 10 लाख लोग बेरोजगार हो जाएंगे। इसी मुद्दे पर आज शराब कारोबारी और होटल व्यवसायी पर्यटन मंत्री महेश शर्मा से मिलेंगे ताकि कोई बीच का रास्ता निकाला जा सके।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये है कि आखिर वो मध्य मार्ग क्या होगा और इस आदेश की क्या काट निकालेंगे शराब कारोबारी।

ये हैं मध्य मार्ग:

इस मुद्दे पर महाराष्ट्र सरकार कई बड़े शहरों से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों से हाईवे का दर्जा वापस लेने की योजना बना रही है। कुछ ऐसी ही योजना पर पश्चिम बंगाल में भी काम हो रहा है।
हालांकि कई राज्यों में तो इस योजना पर अमल किया जा चुका है। यूपी में इसके तहत कई शराब की दुकानों को हाईवे की 500 मीटर की परिधि से दूर शिफ्ट कर दिया गया है।
यूपी में लोक निर्माण विभाग ने 31 मार्च को शासनादेश जारी कर शहरों के आंतरिक मार्ग जो स्टेट हाईवे की श्रेणी में आते थे और उनके बाईपास को अब जिला मार्ग घोषित कर दिया गया है।
विभाग ने शहर के बाईपास को प्रदेश राजमार्ग घोषित कर दिया है।
इसके अलावा शराब कारोबारियों और होटल व्यवसाइयों ने भी इस प्रतिबंध से बचने के लिए अपनी दुकान और होटल का प्रवेश द्वार ही बदल लिया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story