Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कर्नाटक चुनाव 2018: संबित पात्रा बोले- कांग्रेस राज में किसान आत्महत्या का केंद्र था कर्नाटक

कांग्रेस राज में 800 दलित महिलाओं के साथ बलात्कार हुआ और 3857 रेप व छेडखानी के मामले दर्ज हुए। यहां तक कि 7000 महिलाओं की हत्या भी कर दी गई। मगर कांग्रेस इन मामलों पर अंकुश लगाने पर पूरी तरह विफल रही।

कर्नाटक चुनाव 2018: संबित पात्रा बोले- कांग्रेस राज में किसान आत्महत्या का केंद्र था कर्नाटक
X

कर्नाटक चुनाव को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष संबित पात्रा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कर्नाटक कांग्रेस राज में किसान आत्महत्या का केंद्र था। भाजपा ने कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि वह किसानों के साथ अन्याय कर रही है। लगभग पांच वर्षों में कर्नाटक में 3781 किसानों ने अपने जीवन को समाप्त कर दिया।

संबित ने आगे कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस सरकार किसानों के खिलाफ हैं और राहुल गांधी को जवाब देना होगा। राहुल गांधी पर प्रश्नों का बौछार करते हुए संबित पात्रा ने आरोप लगाया कि सिद्धारमैया सरकार कर्नाटक में किसानों प्रति उदसीन रवैया क्यों अपना रही हैै..? जो कुछ ही दिन पहले बंगलुरू में अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को अपने इस कृत्य के लिए किसानों से माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि केंद्र सरकार ने राज्य सरकार को सिंचाई परियोजना के लिए 5456 करोड रूपए दिए। फरवरी 2017 में कृषि और कल्याण मंत्रालय ने इसकी पुष्टि भी की थी, लेकिन कोई पैसा खर्च नहीं किया गया। पात्रा ने आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस को इसकी जानकारी देनी चाहिए कि आखिर इस अनुदान का क्या हुआ? उन्होंने यह भी कहा कि राहुल को इसका भी जवाब देना होगा कि बेंगलुरू में स्टील फलाईओवर परियोजना के लिए कोई दूसरा विकल्प क्यों नहीं तैयार किया गया? क्या आपने दूसरे विकल्प के लिए कोई आधार तैयार किया था?

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने बेंगलुरू में रोड के विकास के लिए 468 करोड रूपए खर्च किए, जो कि चंद्रयान परियोजना अनुमानित लागत 450 करोड रुपये से ज्यादा महंगा साबित हुआ। प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस को यह भी बताना होगा कि भाजपा सरकार की फलेगशीप स्कीम सकाला स्कीम को उससे दूर क्यों रखा गया? उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस राज में 800 दलित महिलाओं के साथ बलात्कार हुआ और 3857 रेप व छेडखानी के मामले दर्ज हुए।

यहां तक कि 7000 महिलाओं की हत्या भी कर दी गई। लेकिन कांग्रेस इन मामलों पर अंकुश लगाने पर पूरी तरह विफल रही। प्रवक्ता ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी अब अपमान की राजनीति को अपना लिया है। इसलिए भी क्योंकि कांग्रेस ने पीएफआई और एसडीपीआई के 175 कार्यकर्ताओं पर दर्ज हुए मामले को खत्म करवा दिया। उसके 1500 कार्यकर्ता फ्री हो गए और उसके बाद 24 हिंदू कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई। कांग्रेस को इसका भी जवाब देना होगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story