Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अभिनंदन को अभिनंदन! पाक सेना के हाथ नहीं लगने दिए खूफिया दस्तावेज, बंदूक होते हुए भी किसी नागरिक को नहीं मारा

भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन के जज्बे की तारीफ पूरे देश में हो रही है और लोग उनके पाकिस्तान से भारत सकुशल लौटने की कामना कर रहे हैं। पाकिस्तानी मीडिया में भी उनको लेकर खबर छपी है जिसमें एक प्रत्यक्षदर्शी के द्वारा देखी गयी घटना का उल्लेख है।

अभिनंदन को अभिनंदन! पाक सेना के हाथ नहीं लगने दिए खूफिया दस्तावेज, बंदूक होते हुए भी किसी नागरिक को नहीं मारा
X
भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान की जांबाजी की एक खबर पाकिस्तान से आई है। खबर के मुताबिक अभिनंदन को जब पता चला कि उनका हवाई जहाज पाकिस्तान में क्रैश हो गया है तो उन्होंने हवा में फायरिंग की। साथ ही उन्होंने एक तालाब में कूद कर सभी जरूरी दस्तावेज को गीला करके नष्ट कर दिया। कुछ जरूरी दस्तावेज को उन्होंने चबा लिया।
पाकिस्तान के डॉन अखबार (Dawn) को एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि पीओके में एक जेट क्रैश हुआ। स्थानीय निवासी मोहम्मद रज्जाक के मुताबिक उन्होंने एक पायलट को पैराशूट से उतरते हुए देखा। पायलट एलओसी से 7 किलोमीटर दूर भिंभर जिले के होरान गांव में गिरा था।
आसमान में धुआं दिखाई दे रहा था। जहां पर अभिनंदन उतरे वहां पर मोहम्मद रज्जाक स्थानीय लोगों के साथ पहुंचे। मोहम्मद रज्जाक के मुताबिक उस समय दो विमान गिरे थे। एक भारत में गिरा था तो वहीं दूसरा विमान पीओके में गिर गया।
लोगों की भीड़ देख कर अभिनंदन ने हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए। उन्हें लगा कि वह भारत में ही गिरे हैं। उन्होंने उन लोगों से पूछा कि वह कहां हैं भारत में हैं या पाकिस्तान में। तब एक लड़के ने चालाकी दिखाते हुए कहा कि यह भारत है।
इस जावब पर उन्होंने फिर से नारेबाजी शुरू कर दी। जिसके बाद कुछ लड़के गुस्से में आ गए और पाकिस्तान आर्मी जिंदाबाद के नारे लगाने लगे। जिसके बाद अभिनंदन को पता चल गया था कि वह भारत में नहीं गिरे हैं बल्कि पाकिस्तान में गिरे हैं।
जिसके बाद उन्होंने तुरंत अपनी बंदूक निकाली और वहां से भागने लगे। जब वहां के लोगों ने उन पर पत्थर बरसाए तो उन्होंने एक हवाई फायरिंग की। और जाकर एक तालाब में कूद गए। वहां पर उन्होंने अपने पास मौजूद महत्वपूर्ण दस्तावेज पानी में फेंक कर नष्ट कर दिया। कुछ कागज को वह मुह में रख कर चबा गए।
इसी बीच पाकिस्तान आर्मी के लोग वहां पहुंच गए और अभिनंदन को हिरासत में ले लिया। लेकिन इससे पहले वह अभिनंदन से कुछ जरूरी डॉक्यूमेंट बरामद कर पाते अभिनंदन उन्हें नष्ट कर चुके थे। सबसे अहम बात यह थी कि बंदूक होते हुए भी उन्होंने किसी भी आम नागरिक पर गोली नहीं चलाई।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story