Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शशि थरुर का भाजपा पर पलटवारः ''भगवा दल ने विदेश प्लेटफॉर्म का किया राजनीतिकरण, सच्चे देशभक्त हुए निराश''

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने मंगलवार को भाजपा पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि भगवा दल ने विदेशी प्लेटफॉर्म का ‘‘राजनीतिकरण'''' किया है । इससे पहले थरूर ने सुषमा स्वराज के संयुक्त राष्ट्र में भाषण को ‘‘प्रचार'''' करार दिया था जिसकी भाजपा ने आलोचना की थी।

शशि थरुर का भाजपा पर पलटवारः भगवा दल ने विदेश प्लेटफॉर्म का किया राजनीतिकरण, सच्चे देशभक्त हुए निराश
X

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने मंगलवार को भाजपा पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि भगवा दल ने विदेशी प्लेटफॉर्म का ‘‘राजनीतिकरण' किया है । इससे पहले थरूर ने सुषमा स्वराज के संयुक्त राष्ट्र में भाषण को ‘‘प्रचार' करार दिया था जिसकी भाजपा ने आलोचना की थी।

थरूर ने कहा कि भाजपा द्वारा आलोचना किए जाने के बाद वह खुद को ‘‘थोड़ा धनी' महसूस कर रहे हैं और दावा किया कि सुषमा ने अपने भाषण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का दस बार जिक्र किया था और भारत के बारे में केवल पांच बार बातें कीं।
थरूर ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘भाजपा चाहती है...और मेरी आलोचना करती है, मैं भी कठोरता से कहता हूं कि जिस तरीके से उन्होंने विदेशी प्लेटफॉर्म का राजनीतिकरण किया है, उससे सभी सच्चे देशभक्त निराश हुए हैं।'
उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने ऐसा प्रधानमंत्री के साथ शुरू किया और अब विदेश मंत्री के साथ खत्म कर रहे हैं।' उन्होंने कहा, ‘‘भारत को इस तरीके से विदेश नीति नहीं चलानी चाहिए। मुझे पूरा विश्वास है कि अगर कांग्रेस पार्टी सत्ता में लौटती है तो हम अपनी राजनीतिक लड़ाई विदेशों में नहीं लड़ेंगे।'
संयुक्त राष्ट्र में सुषमा के संबोधन को भाषण या भाजपा का नारा होने पर सवाल खड़े करते हुए उन्होंने कहा कि सुषमा ने अपने भाषण के पूर्वार्द्ध में ‘‘नये भारत' के लिए मोदी के विजन का जिक्र किया और स्वच्छ भारत मिशन जैसे कार्यक्रमों की चर्चा की।
थरूर ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘सुषमा स्वराज के भाषण को प्रचार बताने के लिए भाजपा द्वारा आलोचना किए जाने से मैं खुद को धनी महसूस कर रहा हूं। उन्होंने अपने भाषण में नरेन्द्र मोदी का दस बार जिक्र किया और भारत का सिर्फ पांच बार जिक्र किया। अगर आप संयुक्त राष्ट्र का इस्तेमाल राजनीतिक प्लेटफॉर्म के तौर पर करते हैं तो आप झंडे की आड़ में नहीं छिप सकते।'
उन्होंने पूछा, ‘‘सुषमा स्वराज के भाषण का पूर्वार्द्ध नरेन्द्र मोदी के ‘‘नये भारत' के विजन पर था जिसमें स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत, समर्थ भारत, सुरक्षित भारत, शिक्षित भारत, विकसित भारत, ऊर्जावान भारत, शक्तिमान भारत का जिक्र था। क्या यह संयुक्त राष्ट्र का भाषण था या भाजपा का नारा?'
संयुक्त राष्ट्र में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के भाषण की थरूर द्वारा आलोचना किए जाने को लेकर सोमवार को भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया जताई थी और कहा था कि विपक्षी दल ने इस परंपरा का उल्लंघन किया कि विदेशों में भारत के रूख पर सभी राजनीतिक दल एक स्वर में बात करेंगे।
भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा था कि कांग्रेस लगातार पाकिस्तान के साथ खड़ी नजर आती है क्योंकि थरूर का बयान केवल एकमात्र घटना नहीं है, विपक्षी दल अक्सर पड़ोसी देश की भाषा बोल रहा है।
थरूर ने रविवार को केरल में कथित तौर पर कहा था कि सुषमा ने पाकिस्तान के विषय पर अपनी पार्टी के मतदाताओं को ध्यान में रखकर भाषण दिया न कि उन्होंने दुनिया में भारत की सकारात्मक छवि को ध्यान में रखकर भाषण दिया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story