Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सबरीमला मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश की खबर झूठी है ! , जांच में जुटी पुलिस

केरल (Kerala) पुलिस मीडिया में आई इन खबरों की जांच कर रही है कि सबरीमला मंदिर (sabarimala temple) में बुधवार को तड़के दो महिलाओं ने प्रवेश किया। टीवी चैनलों के अनुसार, दो महिलाओं... कनकदुर्गा (Kanakdurga) (42) और बिंदू (Bindu) (44) ने भगवान अयप्पा (Lord Ayyappa) के पवित्र मंदिर में प्रवेश का दावा किया है। उन्होंने दिसंबर में भी मंदिर में प्रवेश की कोशिश की थी लेकिन विरोध के कारण उन्हें लौटना पड़ा था।

सबरीमला मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश की खबर झूठी है ! , जांच में जुटी पुलिस

Sabarimala Temple

सबरीमला/Sabarimala. केरल (Kerala) पुलिस मीडिया में आई इन खबरों की जांच कर रही है कि सबरीमला मंदिर (sabarimala temple) में बुधवार को तड़के दो महिलाओं ने प्रवेश किया। टीवी चैनलों के अनुसार, दो महिलाओं... कनकदुर्गा (Kanakdurga) (42) और बिंदू (Bindu) (44) ने भगवान अयप्पा (Lord Ayyappa) के पवित्र मंदिर में प्रवेश का दावा किया है। उन्होंने दिसंबर में भी मंदिर में प्रवेश की कोशिश की थी लेकिन विरोध के कारण उन्हें लौटना पड़ा था।

चुपके से पहुंची महिला, पुलिस कर रही जांच (Sabarimala Temple Women's Allowed)

मीडिया में आई खबरों के अनुसार, दोनों महिलाएं बुधवार को तड़के मंदिर पहुंचीं। वीडियो में काले कपड़े पहने और सिर ढके वे मंदिर में प्रवेश करते दिख रही हैं। तिरूवनंतपुरम में पुलिस सूत्रों ने पुलिस महानिदेशक लोकनाथ बेहरा का हवाला देते हुए कहा कि इस मामले के संबंध में जानकारी एकत्र की जा रही हैं।

केरल सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने वाली कनकदुर्गा और बिंदू कौन है (Sabarimala Temple Entry Women Kanakadurga And Bindu)

कनकदुर्गा मलप्पुरम के अंगदीपुरम में एक नागरिक आपूर्ति कर्मी हैं। बिंदू कॉलेज में लेक्चरर और भाकपा (माले) कार्यकर्ता हैं। वह कोझिकोड जिले के कोयिलैंडी की रहने वाली है। वे दोनों 24 दिसंबर को सबरीमला आई थीं।

सबरीमाला मंदिर विवाद (sabarimala temple issue)

इससे पहले चेन्नई के एक संगठन ने 11 महिलाओं को मंदिर में प्रवेश करने से रोक दिया था और अयप्पा मंत्रोच्चारण कर रहे श्रद्धालुओं ने उन्हें वहां से लौटा दिया था। मंदिर 30 दिसंबर को मकरविल्लकु उत्सव के लिए खोला गया था और बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंचे थे।

सबरीमाला मंदिर वीडियो (Sabarimala Temple Video)

त्रावणकोर देवस्व ओम बोर्ड (टीडीबी) के अध्यक्ष ए पद्मकुमार ने कहा कि उन्हें मंदिर में दो महिलाओं के पूजा-अर्चना करने की कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के दावे की पुष्टि के लिए टीडीबी अधिकारियों को सीसीटीवी फुटेज देखने को कहा गया है।

सबरीमाला मंदिर सुप्रीम कोर्ट (Sabarimala Temple Judgement Supreme Court)

उल्लेखनीय है कि सबरीमाला मंदिर में सुप्रीम कोर्ट ने सभी आयुवर्ग की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति देने का आदेश दिया था, जिसे माकपा नीत एलडीएफ सरकार ने लागू करने का फैसला किया है।

सबरीमाला मंदिर केस / सबरीमाला मंदिर मुद्दा (Sabarimala Temple Case And Sabarimala Temple Issue)

इसके बाद से मंदिर में 10 से 50 साल आयुवर्ग की महिलाओं के प्रवेश को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। कांग्रेस के नेतृत्व वाला यूडीएफ और भाजपा इस आयुवर्ग की महिलाओं के प्रवेश का विरोध कर रही हैं। उनका कहना है कि वे श्रद्धालुओं के साथ हैं।

Share it
Top