Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

#SaafNiyatSahiVikas पीएम मोदी के चार साल, मोदी की इन योजनाओं से भारत की विश्व में बनी पहचान

मोदी सरकार ने आज चार साल पूरे कर लिए हैं इस पर पीएम मोदी ने भारत को एक नया नारा दिया है, ''देश का बढ़ता जाता विश्वास... साफ़ नीयत, सही विकास''। मोदी ने इन चार सालों में कई योजनाओं को भारत की जनता के लिए पेश किया।

#SaafNiyatSahiVikas पीएम मोदी के चार साल, मोदी की इन योजनाओं से भारत की विश्व में बनी पहचान
X

26 मई 2014 से शुरू हुई पीएम मोदी की सरकार को आज (26 मई 2018) चार साल हो गए हैं। पीएम मोदी ने इस अवसर पर भारत को एक नया नारा दिया है, 'देश का बढ़ता जाता विश्वास... साफ़ नीयत, सही विकास'। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश में बदलाव को सभी महसूस कर रहे हैं।

जब हम उपलब्धियों की बात करते हैं, तो सबसे पहले जो बात दिल में आती है वह यह है कि देश आत्मविश्वास से लबरेज है। आत्मनिर्भर बन रहा है। मेक इन इंडिया ने इसे गति दी है।

जन धन योजना के तहत 15 करोड़ से अधिक बैंक खाते खुले, जीवन बीमा और पेंशन वाले 10 करोड़ से अधिक के डेबिट कार्ड जारी। कॉरपोरेट सेक्टर ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के स्वच्छ भारत अभियान को अपनाया।

2019 तक संपूर्ण स्वच्छता का वादा किया। रसोई गैस में नकद सब्सिडी हस्तांतरण योजना लागू हुआ। सब्सिडी में सालाना पांच अरब डॉलर बचत की उम्मीद जागी है। साथ ही डीजल मूल्य भी नियंत्रण मुक्त हुआ है।

रेल अवसंरचना में विदेशी निवेश को अनुमति है, इससे विकास को नई दिशा मिलेगी। छत्तीसगढ़ के संदर्भ में रावघाट परियोजना से छत्तीसगढ़ के विकास को बढ़ावा मिलेगा।

शत्रुओं से घिरे भारत देश में रक्षा में विदेशी निवेश सीमा बढ़ाकर 49 फीसदी किया गया। रक्षा खरीद में तेजी आई। आज 36 राफेल युद्धक विमान की खरीदारी को मंजूरी मिल चुकी है।

सामाजिक क्षेत्र की बात करें, तो बीमा और पेंशन में विदेशी निवेश की सीमा बढ़कर 49 फीसदी कर दी गई है। कोष जुटाने के लिए बैंकों को आईपीओ/एफपीओ लाने की अनुमति दे दी गई।

बशर्ते सरकारी हिस्सेदारी 52 फीसदी से अधिक हो। 100 स्मार्ट शहर परियोजनाओं को मंत्रिमंडल की मंजूरी मिली। छत्तीसगढ़ के चुनींदा शहर भी इसमें शामिल हुए। जीएसटी लागू करने की दिशा में ठोस पहल हुई।

सबसे बड़ी बात उज्जवला योजना से देश को नई दिशा मिली है। गरीबों को गैस सिलेेंडर मिल रहा है, उन्हंे चूल्हे के धुंए से मुक्ति मिल रही है। लोग प्रधानमंत्री के आह्वान पर सब्सिडी छोड़ रहे हैं।

ओडीएफ योजना से स्वच्छता की नई परिभाषा गढ़ी गई है। अावास योजना को लक्ष्य मानकर सबके लिए मकान की परिकल्पना की गई और इसमें तेजी से काम हो रहा है। वास्तव में देश में ऐसे सशक्त नेतृत्व की जरूरत है, जो निर्णय लेकर उसे अंजाम तक पहुंचाने में हर बार सफल रहे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story