Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

प्रद्युम्न मर्डर केस: इस रिपोर्ट से तय होगा कि आरोपी को नाबालिग या वयस्क की तरह किया जाए ट्रीट

प्रद्युम्न मर्डर केस में हर रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं।

प्रद्युम्न मर्डर केस: इस रिपोर्ट से तय होगा कि आरोपी को नाबालिग या वयस्क की तरह किया जाए ट्रीट

प्रद्युम्न मर्डर केस में लगभग हर रोज नए खुलासे हो रहे हैं। इस केस में गिरफ्तार आरोपी छात्र फिलहाल फरीदाबाद के बाल सुधार गृह में है।

जानकारी के अनुसार, बाल सुधार गृह में आरोपी छात्र की काउंसलिंग के दौरान यह बात सामने आई कि उसके परिजन ने हमेशा उसे दबाकर रखा। वो ठीक से खुलकर बोल भी नहीं पाता था।

इसलिए वह अंदर ही अंदर घुटन महसूस करने लगा था। सुधार गृह में छात्र की अब तक 3 बार काउंसलिंग हो चुकी है।

यह भी पढ़ें- शीना बोरा हत्याकांड: इंद्राणी ने पति पीटर पर लगाए आरोप, किए कई खुलासे

क्या था हत्या का कारण

जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड की ओर से एक समिति बनाई गई है। यह समिति आरोपी की काउंसलिंग कर उसका मेंटल लेवल और यह भी जानने की कोशिश कररेगी कि ऐसे क्या हालात बने की छात्र ने प्रद्युम्न की हत्या कर दी।

समिति की इस रिपोर्ट के बाद ही तय होगा कि आरोपी पर मामला नाबालिग की तरह जाए या वयस्क की तरह। समिति अपनी काउंसलिंग रिपोर्ट 22 नवंबर को होने वाली सुनवाई में पेश करेंगी।

आरोपी की तरह बनना चाहता था प्रद्यु्म्न

काउंसलिंग के दौरान ये बात भी सामने आई है कि प्रद्युम्न आरोपी को अपनी रोल मॉडल समझता था। आरोपी छात्र को देखकर ही उसने पियानो की क्लास जाना शुरू किया था।

यह भी पढ़ें- यहां फ्रीजर में पड़ी है ISIS के एक हजार लड़ाकों की लाश, कोई नहीं है अंतिम संस्कार करने वाला

सीबीआई को रिपोर्ट का इंतजार

सीबीआई फिलहाल इस मामले में अब फॉरेसिंक रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। CBI ने आरोपी के स्कूल यूनिफॉर्म, जूते और मोजे कब्जे में लेकर लैब में जांच के लिए भेजे हैं।

इस जांच के पीछे सीबीआई की यह सोच है कि भले प्रद्युम्न की हत्या करते हुए छात्र के ड्रेस पर कोई निशान न पड़ा हो लेकिन जूते मोजे पर खून के छीटे के निशान मिल सकते हैं।

Share it
Top