Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

वोस्टक-2018: रूस आज से शुरू करेगा इतिहास की सबसे बड़ी मिलिटरी ड्रिल, 3 लाख सैनिक लेंगे हिस्सा

मंगलवार को रूस अपने इतिहास की सबसे बड़ी मिलिटरी ड्रिल ''वोस्टक-2018'' लॉन्च करने जा रहा है जिसमें 3,00,000 सैनिक शामिल होंगे। इस ड्रिल में चीन के सैनिक भी हिस्सा लेंगे।

वोस्टक-2018: रूस आज से शुरू करेगा इतिहास की सबसे बड़ी मिलिटरी ड्रिल, 3 लाख सैनिक लेंगे हिस्सा

मंगलवार को रूस अपने इतिहास की सबसे बड़ी मिलिटरी ड्रिल 'वोस्टक-2018' लॉन्च करने जा रहा है जिसमें 3,00,000 सैनिक शामिल होंगे। इस ड्रिल में चीन के सैनिक भी हिस्सा लेंगे।

रूस ने इस ड्रिल की तुलना सोवियत संघ के 1981 वॉर गेम से की है जिसमें 1,00,000 से 1,50,000 सैनिक शामिल थे। साथ ही यह सोवियत काल की सबसे बड़ी मिलिटरी एक्सरसाइज में से एक थी।

रूस के रक्षा मंत्री कहा कहना है कि 3,00,000 सैनिक, 36,000 मिलिटरी वीकल, 1,000 प्लेन और 80 वॉरशिप के साथ यह अब तक की सबसे बड़ी ड्रिल होगी।

इसे भी पढ़ें- अमेरिका पर मंडराया ‘फ्लोरेंस' तूफान का खतरा, दो राज्यों में आपातकाल की घोषणा

उन्होंने कहा कि आप कल्पना कीजिए कि एक साथ 36,000 मिलिटरी गाड़ियां चल रही हो जो हर परिस्थिति का सामना करने के लिए तैयार हैं। इसके अलावा समुद्र में भी रूस कई वैसे जहाजों को लाएगा जिसमें कलिबर मिसाइल लगे होंगे। इन मिसाइलों का इस्तेमाल सीरिया में किया जा चुका है।

रूस भी दिखाएंगा ताकत

इस बार की तुलना में रूस की पिछली मिलिटरी एक्सरसाइज में सैनिकों की संख्या आधी ही थी। इस ड्रिल में रूस अपने नए हथियारों का भी प्रदर्शन करेगा जिसमें इस्कांदर मिसाइल, टी-80 और टी-90 टैंक्स और एसयू-34 और एसयू-35 लड़ाकू विमान भी शामिल होंगे।

पुतिन खुद ले रहे हैं हिस्सा, युद्ध की तैयारी जैसा माहौल

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी इस ड्रिल में हिस्सा लेंगे। रूस के मिलिटरी विश्लेषक पावेल ने बताया कि यह ड्रिल भविष्य में होने वाले विश्व युद्ध की तैयारी है।

साथ ही उन्होंने बताया कि यह सिर्फ कोई संकेत या संदेश नहीं है बल्कि यह एक युद्ध की तैयारी है। हालांकि रूस ने इस बात का खंडन किया है कि यह ड्रिल किसी देश के लिए परेशान होने की वजह बन सकती है।

Loading...
Share it
Top