Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

डॉलर के मुकाबले रूपए में आई गिरावट, बढ़ सकती है महंगाई

शेयर बाजार में आई कमी

डॉलर के मुकाबले रूपए में आई गिरावट, बढ़ सकती है महंगाई
नई दिल्ली. शेयर बाजार में आई कमी के साथ ही भारतीय रुपया भी लगातार गिर रहा है। डॉलर के मुकाबले रुपया गुरुवार को 64 के स्तर तक पुहंच गया। 13 सितंबर 2013 के बाद फिर से रुपया इस स्तर तक पुहंचा है। इस प्रकार, रुपया डॉलर के फलस्वरूप 20 महिने के निचले स्तर पर आ गया है। रुपए में आई कमी से आगामी दिनों मे महंगाई बढऩे का जोखिम बढ़ गया है।
आज सुबह रुपया 24 पैसे की कमजोरी के साथ 63.78 पर खुला। बुधवार को यह 63.54 रुपए प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। फॉरेक्स एक्सपर्ट का कहना है कि रुपए में गिरावट का बड़ा कारण सरकार की आर्थिक मोर्चे पर नाकामी है, जिसके चलते विदेशी संस्थागत निवेशक भारतीय बाजारों से पैसा निकालकर अन्य एशियाई देश चीन और सिंगापुर की ओर रुख कर रहे हैं। ऐसे में इसमें भारी गिरावट आ सकती है।
नुकसान
देश में बड़ी मात्रा में पेट्रोलियम पदार्थ, खाने में इस्तेमाल तेल और दाल जैसी जरूरी चीजों का आयात होता है। 2013-14 के दौरान देश में 16515.37 करोड़ डॉलर का पेट्रोलियम उत्पाद आयात हुआ था। वहीं, 933.67 करोड़ डॉलर का खाद्य तेल आयात हुआ था। जबकि 174.39 करोड़ डॉलर का दाल देश में आई है। रुपए में आई कमजोरी के चलते पेट्रोल-डीजल की कीमतों में इजाफा हो सकता है। डीजल के दाम बढ़ने से माल ढुलाई बढ़ जाएगी, जिससे महंगाई में तेजी आ सकती है। विदेशों में घूमना, शिक्षा के साथ-साथ हवाई यात्रा महंगी हो जाएगी।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, रूपए में गिरावट आने की पांच वजह क्या है -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top