Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानिए कौन है अंग्रेजों के जमाने की पहली भारतीय महिला

अंग्रेजों के जमाने में डॉक्टर की प्रैक्टिस करने वाली पहली भारतीय महिला रुखमाबाई राउत महारानी विक्टोरिया को पत्र लिखा, जिन्होंने अदालत के आदेश को पलट दिया और शादी को भंग कर दिया।

जानिए कौन है अंग्रेजों के जमाने की पहली भारतीय महिला

अंग्रेजों के जमाने में डॉक्टर की प्रैक्टिस करने वाली पहली भारतीय महिला और बाल विवाह की प्रथा के खिलाफ खड़ी होने वाली रुखमाबाई राउत का आज 153वां जन्मदिन है।

रुखमाबाई के जन्मदिन पर गूगल ने भी एक शानदार डूडल बनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी है।डूडल में रुखमाबाई की आकर्षक रंगीन तस्वीर लगाई गई हैं और उनके गले में आला लटका है।

इसमें अस्पताल का एक दृश्य दिखाया गया है जिसमें नर्स बिस्तर पर लेटी महिला मरीजों का इलाज कर रही हैं।

सुतार समुदाय के जनार्दन पांडुरंग के घर में 22 नवंबर 1864 को जन्मीं रुखमाबाई की 11 साल की आयु में बगैर उनकी मर्जी के 19 वर्ष के दादाजी भीकाजी के साथ शादी कर दी गई थी।

आगे की स्लिड्स में जानिए रुखमाबाई के जीवन से जुड़ी 10 रोचक बातें...

Loading...
Share it
Top