Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

RTI में खुलासा 1981 के बाद से राष्ट्रपति ने 121 याचिकाएं निपटाईं

34 वर्षों में भारत के राष्ट्रपति ने मृत्युदंड पाए लोगों की कुल 121 याचिकाओं का निपटारा किया है। ये याचिकाएं 163 से ज्यादा लोगों से संबंधित थीं।

RTI में खुलासा 1981 के बाद से राष्ट्रपति ने 121 याचिकाएं निपटाईं
X

अमृतसर. बीते 34 वर्षों में भारत के राष्ट्रपति ने मृत्युदंड पाए लोगों की कुल 121 याचिकाओं का निपटारा किया है। ये याचिकाएं 163 से ज्यादा लोगों से संबंधित थीं। संयुक्त सचिव (ज्यूडिशियल एंड सीपीआईओ) जेपी अग्रवाल ने कहा कि आरटीआई के जरिए पूछे गए एक सवाल के जवाब में गृह मंत्रालय (विधि खंड) ने बताया कि वर्ष 1981 के बाद से ऐसे कुल 124 मामले थे।

मशहूर कन्नड़ लेखक मूर्ति को CM के कार्यक्रम से घसीट कर किया बाहर, लिया हिरासत में

इनमें से 90 मामलों को खारिज कर दिया गया था और 31 मामलों में राहत देते हुए मौत की सजा को कम करके उम्रकैद दे दी गई थी। उन्होंने कहा कि मृत्युदंड पाए लोगों की तीन याचिकाएं अभी भी विचाराधीन हैं। इनमें से एक याचिका चंडीगढ़ के बलवंत सिंह राजोना, दूसरी याचिका असम के टोटे दीवान और तीसरी याचिका केरल के एंटनी की है।

भूमि अधिग्रहण बिल पर बोले अन्‍ना, कहा: खुली बहस करें पीएम मोदी

पहली दो याचिकाएं वर्ष 2012 में दायर की गई थीं जबकि तीसरी याचिका 2013 में दायर की गई। फांसी का इंतजार कर रहे दोषियों में खालिस्तान लिबरेशन फोर्स का देविन्दर सिंह भुल्लर शामिल है, जिसे वर्ष 1993 के बम विस्फोट में नौ लोगों की हत्या करने व 31 लोगों को घायल करने का दोषी ठहराया गया था।

आरक्षण मुद्दे पर जाट नेताओं की पीएम से मुलाकात, मोदी बोले जल्द खोजेंगे हल

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, अन्य तथ्यों के बारे में -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें
ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top