Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुलासा: गांधी परिवार का दामाद होने की वजह से वाड्रा को बिना जांच मिले कई लाइसेंस

धींगरा कमीशन का गठन इसलिए हुआ था ताकि गुड़गांव में कॉलोनी बनाने की अनुमति देने में किसी भी प्रकार की अनियमितता की जांच की जा सके।

खुलासा: गांधी परिवार का दामाद होने की वजह से वाड्रा को बिना जांच मिले कई लाइसेंस
X
हरियाणा की भूपिंदर सिंह हुड्डा सरकार ने साल 2008 में सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी को गुड़गांव में कॉलोनी बनाने की अनुमति दी थी।
कंपनी की कॉलोनी बनाने की क्षमता का मूल्यांकन करने वाले अधिकारियों ने वाड्रा को केवल इस आधार पर कॉलोनी बनाने की स्वीकृति दे दी कि राबर्ट वाड्रा सोनिया गांधी के दामाद और वीआईपी हैं।
सूत्रों के मुताबिक़, इस बात का खुलासा रिटायर्ड न्यायाधीश एसएन धींगरा कमीशन के सम्मुख टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग के अधिकारियों के बयान के बाद हुआ है।
गौरतलब है कि धींगरा कमीशन का गठन इसलिए हुआ था ताकि गुड़गांव में कॉलोनी बनाने की अनुमति देने में किसी भी प्रकार की अनियमितता की जांच की जा सके।
इस सिलसिले में धींगरा कमीशन ने 2016 अगस्त में अपनी रिपोर्ट हरियाणा के वर्तमान सीएम मनोहर लाल खट्टर को सौंपी थी।
जिसके बाद भूपिंदर सिंह हुड्डा ने धींगरा कमीशन की रिपोर्ट की संवैधानिक वैधता पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करते हुए, खट्टर पर यह आरोप लगाया था कि खट्टर ने राजनीतिक बदले की भावना की वजह से इस कमीशन का गठन किया है।
हालांकि धींगरा कमीशन की जांच रिपोर्ट अभी तक सबके सामने नहीं आई है लेकिन न्यायाधीश धींगरा ने इस मुद्दे पर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है।
जस्टिस धींगरा ने कहा है कि वो अपना काम कर चुके हैं और अब ये अदालत फैसला करेगी कि ये रिपोर्ट सार्वजनिक की जाए या नहीं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story