Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

डकैतों ने किया नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म, खेतों में फेंका मासूम को

पुलिस कैलाश से भी पूछताछ कर रही है।

डकैतों ने किया नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म, खेतों में फेंका मासूम को
लखनऊ. पारा के सलेमपुर पतौरा गांव में सोमवार देर रात बदमाशों ने डकैती करने के बाद घर की 12 साल की बेटी से गैंगरेप और बाद में उसे खेतों में फेंक गए। इससे पहले लुटेरों ने लूट के दौरान पति-पत्नी को घायल किया और उनके सामने ही बेटी का अपहरण कर लिया। वे उसे घर के पास ही दुष्कर्म करने के बाद खेतों में फेंक गए। बच्ची को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।
स्थानीय लोगों के अनुसार, उन्नाव जिले के मूल निवासी दंपती सलेमपुर पतौरा गांव में पिछले डेढ़ साल से रह रहे हैं। उनके परिवार में 12 वर्षीय बेटी और दो छोटे बेटे हैं। किशोरी के पिता बढ़ई का काम करते हैं। दंपती के अनुसार, सोमवार रात वे तीनों बच्चों के साथ एक कमरे में सो रहे थे। रात करीब डेढ़ बजे डकैतों ने दरवाजे पर दस्तक दी। पूछने पर कहा, 'दरवाजा खोलो, पड़ोस में चोरी हो रही है।' दरवाजा नहीं खोला तो बदमाशों ने बेल्चा मारकर दरवाजा तोड़ दिया।
सात बदमाशों के सामने दंपती बेबस हो गए। बच्चों को बचाने के लिए उन्होंने विरोध किया तो डकैतों ने पति के सिर पर बेल्चा मार दिया और पत्नी को बाल पकड़कर उसे जमीन पर पटक दिया। बच्चों को जान से मारने की धमकी देकर बदमाशों ने उसके जेवर, वहां रखे 3000 रुपये व अन्य सामान लूट लिया। दंपती के अनुसार, वारदात के बाद डकैत उनकी बेटी को उठा ले गए। दंपती ने शोर मचाया, लेकिन सुनने वाला कोई नहीं था। पिता ने करीब दो बजे पुलिस कंट्रोल रूम और अपने भाई बादरखेड़ा निवासी मंशाराम को सूचना दी। मॉडर्न कंट्रोल रूम की टीम करीब ढाई बजे मौके पर पहुंच गई। पुलिसकर्मियों ने दंपती के साथ उनकी बेटी की तलाश शुरू की तो वह खेतों में बदहाल रोती नजर आई।
किशोरी ने बताया कि डकैतों ने उसके साथ हरिश्चंद्र के खेत में गैंग रेप किया है। डकैतों ने उसे मारा-पीटा भी, उसके बाद ट्यूबवेल की ओर भाग गए। इसी बीच पारा थाने की पुलिस भी पहुंची। सुबह चार बजे तक आईजी जोन ए सतीश गणेश, एसएसपी मंजिल सैनी और एएसपी क्राइम डॉ. संजय कुमार भी पुलिस बल के साथ पहुंच गए। पड़ोसी के घर से लिया था हथौड़ा जिस मकान में यह वारदात हुई उससे करीब 300 मीटर पहले कैलाश का मकान है। उनके कमरे में ताला लगा था, लेकिन चाबी बरामदे में ही रखी थी। डकैतों ने चाबी से ताला खोलकर टार्च व हथौड़ा निकाला और खटिया भी ले गए थे। माना जा रहा है कि डकैत आसपास के ही हैं।
पुलिस कैलाश से भी पूछताछ कर रही है। ट्यूबवेल के पास पी गई शराब डॉग स्क्वॉड घटनास्थल से पहले उस खेत में गया जहां किशोरी से गैंगरेप किया गया था। उसके बाद वह वहां से करीब एक किमी दूर स्थित शीतला सिंह के ट्यूबवेल तक गया था। वह ट्यूबवेल के पास जाकर रुक गया। पुलिस को वहां से प्लास्टिक के गिलास भी मिले हैं। माना जा रहा है कि डकैतों ने वारदात से पहले ट्यूबवेल के पास शराब पी थी। उसके बाद घर पर धावा बोला था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top