Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रिटेल बाजार में है 15 परिवारों पर एक दुकान

मैन्यूफैक्चरिंग से रोजगार के मामले में आगे है रिटेल बाजार

रिटेल बाजार में है 15 परिवारों पर एक दुकान
नई दिल्ली. भारत में रिटेल बाजार काफी बड़े स्तर पर फैला हुआ है। इसकी खास वजह खुद के कामधंधे को बताई जा रही है। वहीं रिटेल बाजार से जुड़ा आकड़ा बताता है कि देश में 1.6 करोड़ रिटेल की दुकाने हैं। जिसके हिसाब से हर 15 परिवार पर एक दुकान आती है।
मैन्यूफेक्चरिंग है जरुरी
एनबीटी की खबर के मुताबिक, रिटेल बाजार से जुड़ें आकड़ें यह बताते है कि मैन्यूफैक्चरिंग रिटेल मार्किट में एक अहम भूमिका निभाता है लेकिन वहीं यह बात भी सामने आ रही है कि रिटेल बाजार मैन्यूफैक्चरिंग से आगे है और इसमें नौकरियों के अवसर भी मैन्यूफैक्चरिंग मार्किट के मुकाबले अधिक है। बता दें कि मैन्यूफैक्चरिंग की देश में एक करोड़ यूनिट्स है और रिटेल के बाद इसका स्थान दूसरा है।
अन्य रोजगारों में भी है नौकरी के अवसर
बात करें इन दोनों क्षेत्रों में लगे कर्मचारियों कि तो मैन्यूफैक्चरिंग में देश की करीब 3 करोड़ आबादी इससे जुड़ी हुई है वहीं रिटेल में यह आकड़ा तकरीबन 2.7 करोड़ का है। जहां तक सवाल है अन्य रोजगारों का तो इसके अलावा ट्रांसपोर्ट कंपनियां, वेअरहाउसिंग, होटल एवं रेस्तरां और हेल्थकेयर से संबंधित कंपनियां सबसे अधिक रोजगार देने में आगे है। वहीं, शिक्षा क्षेत्र में सुधार देखा गया है जहां करीब 20 लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध है।
छठा आर्थिक सर्वे
वहीं केंद्र सरकार द्वारा 2013 में किए गए छठे आर्थिक सर्वें से यह आकड़ा निकलकर आया है कि 2.8 करोड़ उद्यमी की गणना की गई जिसमें करीब देश के 13 करोड़ लोग नौकरी कर रहे हैं। बता दें कि इस सर्वे के परिणाम इसी साल के प्रारम्भ में जारी किए गए थे। इससे पहले यह सर्वें 2005 में करवाया गया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top