Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लिखे हुए 500 और 2000 के नोटों को लेने से मना नहीं कर सकते बैंकः RBI

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया आर्थिक साक्षरता के तहत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में आने वाले लोगों को जागरूक कर रहा है।

लिखे हुए 500 और 2000 के नोटों को लेने से मना नहीं कर सकते बैंकः RBI
X

RBI ने कहा है कि कोई भी बैंक 500 और 2000 रूपए के उन नोटों को लेने से मना नहीं कर सकता है जिन पर कुछ लिखा हुआ है। हालांकि ऐसे नोटों को सिर्फ जमाकर्ता के व्यक्तिगत खाते में जमा किया जा सकता है। ऐसे नोटों को बैंक से नहीं बदला जा सकेगा।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया आर्थिक साक्षरता के तहत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में आने वाले लोगों को जागरूक कर रहा है। यहां नए नोटों के फीचर समेत लोगों को उनके अधिकार के प्रति साक्षर किया जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः हार्दिक पटेल ने कहा- मैं आंदोलनकारी हूं, मुझे राजनीति नहीं करनी

लिखे होने से खराब नहीं होंगे नोट-

आरबीआई के अधिकारियों ने बताया, कि केंद्रीय बैंक पहले ही इस संबध में भ्रम को दूर कर चुका है। अधिकारियों ने बताया कि मेंले में आने वाले ज्यादातर लोग नोटों पर कुछ लिखा होने की स्थिति में उनकी वैधता को लेकर सवाल कर रहे हैं।

अधिकारियों ने कहा कि हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि नोट पर कुछ लिखा होनो या रंग लग जाने की स्थिति में भी वह मान्य होंगे। बैंक उन्हें लेने से इनकार नहीं कर सकते हैं।

बदले नहीं जाएंगे लिखे हुए नोट-

आरबीआई ने कहा है कि ग्राहक ऐसे नोटों को बैंक से बदलवा नहीं सकते हैं, लेकिन ऐसे नोटों को अपने व्यक्तिगत खातों में जमा करवा सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि नए नोटों को लेकर अभी रिफंड नीति नहीं आई हैं।

यह भी पढ़ेंः खुशखबरी: जानिए किन-किन को मिलेगा 7वें वेतन आयोग का लाभ

नोटों के फीचर के बारे में दे रहे हैं जानकारी-

आरबीआई के अधिकारियों ने कहा कि हम मेंले में आने वाले लोगों को नए नोटों के फीचर के बारे में भी जानकारी दे रहें हैं, ताकि ग्राहक जाली नोटों की पहचान कर सके।

अधिकारियों ने बताया कि हमने इसके लिए पैमफ्लेट्स प्रकाशित कराए हैं। इन पर नए नोटों के बारे में सारी जानकारी मौजूद है। उन्होंने बताया कि 500, 2000 और 200 रूपए के नए नोटों पर 17 फीचर हैं। जबकि 50 रूपए के नए नोट पर 14 फीचर हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story