Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अब नहीं होगी कॉल ड्रॉप, JIO लगाएगा 45 हजार टावर

पिछले दिनों ट्राई ने इन कंपनियों पर 3,500 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाने की सिफारिश की थी।

अब नहीं होगी कॉल ड्रॉप, JIO लगाएगा 45 हजार टावर
नई दिल्ली. रिलायंस जियो की फ्री कॉलिंग और 4जी डेटा सर्विस से अन्य मौजूदा टेलीकॉम कंपनियों में हलचल मच गई है। कंपनी की इंटरकनेक्शन पीओआइ की समस्या की वजह से ग्राहकों को परेशानियां झेलनी पड़ रही है। जिसके बाद जियो ने ट्राई से मौजूदा कंपनियों की शिकायत भी की है कि इसे उपलब्ध इंटरकनेक्शन मुहैया नहीं करा रही हैं।
अब रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने अपने 4जी नेटवर्क को मजबूत करने के लिए 6 महीने के अंदर 45,000 मोबाइल टावर लगाने का फैसला लिया है। एक आधिकारिक सूत्र ने बताया, 'टेलिकॉम मिनिस्टर मनोज सिन्हा के साथ मीटिंग में रिलायंस जियो ने कहा कि वह अपने नेटवर्क को मजबूत करने के लिए छह महीने में 45,000 मोबाइल टावर लगाएगा। कंपनी का कहना है कि वह अगले 4 साल में एक लाख करोड़ रुपए का निवेश करेगी। नए टावर लगाने की योजना भी उस इनवेस्टमेंट का ही एक हिस्सा है।'
नवभारत टाइम्स के अनुसार, इस मामले में रिलायंस जियो की ओर से फिलहाल कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है। सूत्र ने बताया कि रिलायंस जियो ने मंत्री को बताया कि वह पहले ही 1.5 लाख करोड़ रुपए का निवेश कर देश भर में 2.82 लाख बेस स्टेशन स्थापित कर चुका है। इसके जरिए कंपनी 18,000 से ज्यादा शहरों और 2 लाख गांवों को कवर करेगी।
सूत्र के मुताबिक, 'जियो ने कहा कि वह ग्राहकों को बेहतर अनुभव देने के लिए पूरे प्रयास कर रहा है। लेकिन, इंटरकनेक्टिविटी के मामले में एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया से सहयोग न मिलने के कारण कॉल कटने की दर ज्यादा हो गई है।'
पिछले दिनों ट्राई ने इन कंपनियों पर 3,500 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाने की सिफारिश की थी। इस मामले को सुलझाने के लिए मंगलवार को ट्राई की ओर से बुलाई गई बैठक में भी एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया ने हिस्सा लिया। तीनों कंपनियों ने इस मसले पर अपनी राय रखी और जुर्माने की सिफारिश का विरोध किया। इस पर ट्राई के चेयरमैन आरएस शर्मा ने कंपनियों से इस मामले को आपस निपटाने की सलाह दी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top