Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मेरी छवि को नुकसान पहुंचाने की कोशिशः रतन टाटा

रतन टाटा का कहना है कि परिणाम जैसा भी हो लेकिन सच्चाई सबके सामने आएगी।

मेरी छवि को नुकसान पहुंचाने की कोशिशः रतन टाटा
X
मुंबई. रतन टाटा ने टाटा संस के निष्कासित चेयरमेन साइरस मिस्त्री के साथ चल रहे खींचतान को लेकर चुप्पी तोड़ दी है। रतन टाटा का कहना है कि उनकी छवि को पिछले दो महीने से नुकसान पहुंचाने की कोशिश की जा रही है।
दरअसल, 24 अक्टूबरर को मिस्त्री को टाटा संस के चेयरमैन पद से अचानक हटा दिया गया था। जिसके बाद रतन टाटा को अंतरिम चेयरमैन बनाया गया। टाटा ने टाटा कैमिकल्स के शेयरधारकों की बैठक में अपने विचार रखे। उन्होने कहा कि उनकी व्यक्तिगत छवि को नुकसान पहुंचाई जा रही है। लेकिन एक दिन सच सबके सामने होगा। रतन टाटा ने बताया कि ये वक्त उनके लिए पूरी तरह से अकेलेपन का था।
गौरतलब है कि उन्होंने कहा, था कि ‘पिछले दो माह के दौरान ही मेरी व्यक्तिगत छवि के साथ इस महान टाटा समूह की छवि को भी नुकसान पहुंचाने के लिये प्रयास किये गये थे। इतना ही नहीं मिस्त्री खुद को इस पद से हटाए जाने के खिलाफ लडाई लड़ रहे हैं और शुरू में समूह की अन्य कारोबारी कंपनियों के निदेशक मंडल में बने रहने पर अड़े रहे। इस दौरान रतन टाटा व साइरस मिस्त्री ने एक दूसरे के खिलाफ बयान जारी की।
बता दें कि मिस्त्री टाटा समूह की कारोबारी के निदेशक मंडल से तो हट गए हैं लेकिन उन्होंने रतन टाटा व टाटा संस को राष्ट्रीय कंपनी कानून न्यायाधिकरण में पूरी तरह से घसीट दिया है। रतन टाटा ने इस हरकत पर कहा कि टाटा का यह समूह करीब 150 साल से है। टाटा ने कहा कि जैसा भी परिणाम हो कितना ही पीड़ादायी हो लेकिन सच्चाई सबके सामने आएगी।
टाटा कैमिकल्स के बोर्ड की असाधारण आम बैठक मिस्त्री व उनके समर्थक स्वतंत्र निदेशक नुस्ली वाडिया को निदेशक पहले ही अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं इसलिए शेयरधारकों ने केवल वाडिया के बिंदु पर मतदान किया। रतन टाटा का कहना है कि इस दौरान वे सभी शेयरधारकों से मिले और उसने समर्थन से काफी खुश हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story