Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

खूंटी में ग्रामीणों और पुलिस के बीच मुठभेड़, 1 की मौत, 5 घायल

सीएम रघुवर दास ने ग्रामीणों और पुलिस के बीच हुई इस हिंसक झड़प की निंदा की है।

खूंटी में ग्रामीणों और पुलिस के बीच मुठभेड़, 1 की मौत, 5 घायल
रांची. झारखंड की राजधानी से 40 किलोमीटर दूर खूंटी जिले के मुरहू थानांतर्गत साइको गांव में शनिवार आदिवासी भूमि से संबन्धित कानूनों में बदलाव की राज्य सरकार की कोशिशों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में भाग लेने रांची आ रहे पारंपरिक हथियारों से लैस आदिवासी जत्थे की पुलिस से मुठभेड़ हो गई जिसमें गोली लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि पांच अन्य घायल हो गए। मुठभेड़ में पुलिस के दो वरिष्ठ अधिकारियों समेत आधा दर्जन कर्मी भी घायल हुए हैं।
खूंटी के मुरहू थाना क्षेत्र के साइको में आक्रोश रैली के लिए जमा ग्रामीणों को नियंत्रित करने पहुंची पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला बोल दिया। वहां अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनुराग पहुंचे और उन्होंने लोगों को शांत करने की कोशिश की लेकिन लगभग एक हजार लोगों की भीड़ ने उन्हें घेर कर बंधक बना लिया और एक पेड़ से बांध दिया।
एनडीटीवी के अनुसार, सूचना पाकर वहां दलबल के साथ पहुंचे जिला पुलिस मुख्यालय के उपाधीक्षक विकास आनंद लागुरी पर भीड़ ने पथराव प्रारंभ कर दिया। इस बीच भीड़ से किसी ने टांगी से वार कर पुलिस उपाधीक्षक के अंगरक्षक नरेन्द्र शर्मा को गंभीर रूप से घायल कर दिया। टांगी शर्मा की गर्दन के पास लगी। भीड़ के हमले में पुलिस उपाधीक्षक का भी हाथ टूट गया।
सीएम रघुवर दास ने ग्रामीणों और पुलिस के बीच हुई इस हिंसक झड़प की निंदा की है। उन्होंने कहा कि हिंसा का समाज में कोई स्थान नहीं है। मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनों को दो लाख रुपए मुआवजा देने की भी घोषणा की है। फिलहाल सभी पुलिस कर्मियों को ग्रामीणों के कब्जे से छुड़ा लिया गया है।
इसी साल अक्टूबर में हजारीबाग के बड़कागांव में एनटीपीसी के विरोध में धरने पर बैठे लोगों और पुलिस के बीच भिड़ंत हो गई थी। स्थानीय विधायक को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस पर लोगों ने पथराव कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को काबू करने के लिए फायरिंग की, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top