Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रामदेव लाएंगे ''स्वदेशी जींस'', पाकिस्तान में भी यूनिट लगाने की योजना

पतंजलि कंपनी जल्द ही स्वदेशी जींस लाकर कपड़ा बाजार में भी कदम रखेगी।

रामदेव लाएंगे
नागपुर. योग गुरु बाबा रामदेव का पतंजलि समूह अपने एफएमसीजी प्रोडक्ट को पाकिस्तान-अफगानिस्तान समेत बड़े अंतर्राष्ट्रीय बाजार में उतारने वाली है। रामदेव ने रविवार को ऐलान किया कि कंपनी जल्द ही स्वदेशी जींस लाकर कपड़ा बाजार में भी कदम रखेगी। बाबा रामदेव ने नेपाल और बांग्लादेश में अपनी यूनिट्स लगा चुके हैं।
बाबा ने बताया कि हमारे प्रोडक्ट मिडल ईस्ट में खासतौर पर सऊदी अर्ब में पसंद किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पतंजलि समूह परिधान के क्षेत्र में भी दस्तक देगा और जल्द ही 'स्वदेशी जींस' बाजार में लाएगा।
एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, बाबा रामदेव ने संवाददाताओं से कहा कि युवाओं की तरफ से अच्छी मांग है और इसीलिए पतंजलि ने विदेशी ब्रांड से टक्कर लेने के लिऐ स्वदेशी जींस पेश करने का फैसला किया है। उन्होंने यह भी कहा कि समूह रोजमर्रा के उत्पादों के साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार में संभावना तलाशने को तैयार है और भविष्य में पाकिस्तान तथा अफगानिस्तान में भी दस्तक दे सकता है।
रामदेव ने कहा, ‘हमने पहले ही नेपाल और बांग्लादेश में इकाइयां लगाई हैं और हमारे उत्पाद पश्चिम एशिया पहुंच चुके हैं तथा सउदी अरब समेत कुछ देशों में लोकप्रिय हुए हैं।’ उन्होंने कहा, ‘हमें गरीब देशों पर ध्यान देना चाहिए क्योंकि उन देशों से लाभ का उपयोग वहां विकास कायो’ में किया जाएगा।’
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान में उत्पादों की पहुंच राजनीतिक माहौल पर निर्भर करेगी। लिहाजा माहौल सकारात्मक रहा तो वहां भी इकाइयां स्थापित की जाएंगी। योग गुरु के मुताबिक, कंपनी के उत्पाद कनाडा तक पहुंच चुके हैं। कंपनी के उत्पाद 90 फीसदी मुस्लिम आबादी वाले देश अजरबेजान तक पहुंच चुके हैं। वहां के एक कारोबारी ने पतंजलि के आयुर्वेदिक उत्पादों में रुचि दिखाई है। उन्होंने कहा कि परिधान के साथ रिफाइंड खाद्य तेल भी इस साल पेश किया जाएगा।
रामदेव ने बताया कि नागपुर के मिहान में 40 लाख वर्ग फीट में बड़ी इकाई स्थापित की जाएगी। यह यूनिट हरिद्वार की इकाई से ही नहीं, बल्कि देश की सबसे बड़ी उत्पादन इकाई होगी। नागपुर की यूनिट में एक हजार करोड़ के निवेश होगा और इससे महाराष्ट्र के 15 हजार से ज्यादा युवाओं को रोजगार मिलेगा। नागपुर के निकटवर्ती सेज में एक एक्सपोर्ट यूनिट भी स्थापित की जाएगी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top