Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राम मंदिर पर घमासान: भागवत के बयान पर ओवैसी का पलटवार

कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करने वाले आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पलटवार किया है।

राम मंदिर पर घमासान: भागवत के बयान पर ओवैसी का पलटवार
X

कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करने वाले आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के बयान पर एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने पलटवार किया है।

ओवैसी ने कहा कि अगर भाजपा और आरएसएस कानून के द्वारा मंदिर का निर्माण करना चाहते हैं तो करें उनकी सरकार हैं, उनको कौन रोक रहा है?

उन्होंने कहा कि आरएसएस और बीजेपी बहुलतावाद में विशवास नहीं करते है। भाजपा और आरएसएस सिर्फ बहुसंख्यकवाद में भरोसा करते है। आरएसएस को कानून में भरोसा नहीं है।

आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ मुख मोहन भागवत ने मोदी सरकार से अपील की है कि वह कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ करे।

भागवत ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण 'स्वगौरव' की दृष्टि से आवश्यक है और मंदिर बनने से देश में सद्भावना एवं एकात्मता का वातावरण बनेगा।

इसे भी पढ़ें- कैप्टन ने पीएम मोदी से की मुलाकात, पंजाब के किसानों को पराली के बदले मुआवजा देने की मांग की

विजयादशमी के अवसर पर अपने वार्षिक संबोधन में भागवत ने कहा कि राम जन्मभूमि स्थल का आवंटन होना बाकी है, जबकि साक्ष्यों से पुष्टि हो चुकी है कि उस जगह पर एक मंदिर था।

भागवत ने कहा कि राजनीतिक दखल नहीं होता तो मंदिर बहुत पहले बन गया होता। हम चाहते हैं कि सरकार कानून के जरिए (राम मंदिर) निर्माण का मार्ग प्रशस्त करे।

उन्होंने कहा कि राष्ट्र के 'स्व' के गौरव के संदर्भ में अपने करोड़ों देशवासियों के साथ श्रीराम जन्मभूमि पर राष्ट्र के प्राणस्वरूप धर्ममर्यादा के विग्रहरूप श्रीरामचन्द्र का भव्य राममंदिर बनाने के प्रयास में संघ सहयोगी है। श्रीराम मंदिर का बनना स्वगौरव की दृष्टि से आवश्यक है। मंदिर बनने से देश में सद्भावना व एकात्मता का वातावरण बनेगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

और पढ़ें
Next Story