Top

राम माधव बोले, संघ को समझना मुश्किल, लेकिन गलतफहमी पालना है आसान

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 20 2017 6:45PM IST
राम माधव बोले, संघ को समझना मुश्किल, लेकिन गलतफहमी पालना है आसान

भाजपा के महासचिव राम माधव ने कहा है कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ यानि आरएसएस को समझना बेहद मुश्किल है, लेकिन इसको लेकर गलतफहमी पालना बेहद आसान है। इसी वजह से संघ को लेकर बहुत सी गलतफहमी फैली हुई हैं।

यह भी पढ़ें: केदारनाथ में पीएम मोदी बोले- दिवाली के बाद शुरू होना चाहिए विकास का नया बही खाता

राम माधव ने यह बातें ओपन मैगजीन के संपादक एस. प्रसन्नाराजन को दिए साक्षात्कार में कही हैं। उन्होंने कहा कि संघ को कुछ लोग अतिरिक्त संवैधानिक संस्था के रूप में देखते हैं। कई बार तो इसकी तुलना सोनिया गांधी और पूर्ववर्ती यूपीए सरकार की एनएसी के भी की जाती है, जो सही नहीं है।

संघ के पूर्व प्रवक्ता ने कहा कि मजेदार बात तो यह है कि कुछ विश्लेषक संघ को संविधान से बढ़कर सत्ता का केंद्र मानते हैं, वहीं कुछ सियासी पंडित कहते हैं कि पीएम मोदी आरएसएस की नहीं सुन रहे हैं। यह विरोधाभास समझे से परे है।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी की केदारनाथ यात्रा को लेकर भाजपा में शुरू हुआ घमासान

राम माधव ने कहा कि सच्चाई तो यह है कि संघ ऐसा संगठन है, जिसका राजनीति के रोजमर्रा के काम से कोई लेना-देना नहीं है। इसके साथ ही संघ राष्ट्र उत्थान के लिए प्रेरित लोगों का समूह है। ऐसे लोगों को एक्सट्रा-कान्स्टिटूशनल कहना सही नहीं है।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
ram madhav says it is difficult to understand the rss but easy to misunderstand

-Tags:#Ram Madhav#RSS#Rashtriya Swayamsevak Sangh#BJP#Nagpur

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo