Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

2022 तक खत्म हो जाएगा आतंकवाद-नक्सलवाद: राजनाथ

अटल कहते थे कि हम आगे चलकर आर्थिक महाशक्ति बनेंगे।

2022 तक खत्म हो जाएगा आतंकवाद-नक्सलवाद: राजनाथ

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को विश्वास जताया कि वर्ष 2022 तक आतंकवाद, नक्सलवाद और वामपंथी उग्रवाद का खात्मा हो जाएगा।

उन्होंने संकल्प से सिद्धि- न्यू इण्डिया मूवमेंट 2017-2022 नए भारत का निर्माण कार्यक्रम के मौके पर सभी को भारत को स्वच्छ, गरीबी मुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त, आतंकवाद मुक्त, सांप्रदायिकता मुक्त और जातिवाद मुक्त भारत बनाने की शपथ दिलाई।

राजनाथ शुक्रवार को भाजपा की महानगर इकाई की ओर से साइंटिफिक कन्वेंशन सेंटर में नए भारत के निर्माण के लिए संकल्प से सिद्धि कार्यक्रम में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि अगस्त क्रांति की 75वीं वर्षगांठ, स्वतंत्रता दिवस की 70वीं वर्षगांठ, डॉ. अंबेडकर की 125वीं जयंती, चंपारण आंदोलन के शताब्दी वर्ष जैसे आयोजन आजाद भारत के इतिहास में किसी राजनीतिक दल ने हाथ में नहीं लिए।

गांधी की स्वच्छता को मोदी ने बनाया जन आंदोलन-

गृहमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी ने स्वच्छता के महत्व को पहचानकर इसे एक अभियान का रूप दिया था, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसे एक जनान्दोलन बनाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार बनाने की राजनीति नहीं करती, बल्कि राष्ट्र निर्माण और विकास की सियासत करती है।

याद की अटल वाणी-

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हम जातिवाद, संप्रदायवाद को खत्म करना चाहते हैं। जब तक हम इंसान को इंसान नहीं मानेंगे, लक्ष्य हासिल नहीं कर सकते। मन बड़ा करना पड़ेगा। अटल बिहारी वाजपेयी कहते थे, छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता। हम आगे चलकर आर्थिक महाशक्ति ही नहीं बनना चाहते, विश्व गुरु के पद पर आसीन होना चाहते हैं।

पांच साल में पूरा करेंगे संकल्प

भाजपा ये कार्यक्रम कर रही है क्योंकि हमारा लक्ष्य सिर्फ सरकार बनाना नहीं, राष्ट्रनिर्माण करना है। राष्ट्रीय सोच, सरोकार व संस्कार को गढ़ना है। वर्ष 1942 में महात्मा गांधी ने अंग्रेजो भारत छोड़ो और करो या मरो का नारा दिया था। उनके आह्वान पर देशवासियों ने संकल्प लिया और पांच वर्ष बाद यह संकल्प आजादी के रूप में फलीभूत हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2017 में संकल्प लिया है कि 2022 तक देश को अशिक्षा, गरीबी, अभाव से मुक्त कर नए भारत का निर्माण किया जाएगा।

Next Story
Top