Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिहार में रेल इंजन मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स को मंजूरी मिलने के आसार

दो प्रोजेक्ट्स के दौरान लगेंगे 42000 करोड़ रुपए

बिहार में रेल इंजन मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स को मंजूरी मिलने के आसार

बिहार. केंद्र सरकार बिहार में रेलवे इंजन तैयार करने वाली 2 मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स को मंजूरी देने का विचार कर रही है। इस सम्बंध में ताज़ा जानकारी मिल रही है कि दोनों ही प्रोजेक्ट काफी लंबे समय से अटके पड़े थे।

इसे भी पढ़ें:- नीतिनिर्धारण में मुद्रास्फीति, तेल बाजार में नरमी का ध्यान रखेगा RBI, जेटली को उम्मीद!

फिलहाल केंद्र के इस कदम को सीधे बिहार चुनाव से जोड़ कर देखा जा रहा है। इस योजना पर राज्य की विपक्षी पार्टियों का कहना है कि चुनाव नजदीक आते ही कई तरह की योजनाओं में भी पंख लगते हुए दिखाई देते है।
गौरतलब है कि प्रोजेक्ट्स में तकरीबन 42000 करोड़ रुपए का निवेश भी किया जाना है। साथ ही यह सुचना भी सामने आई है कि इन प्रोजेक्ट्स में शामिल होने के लिए 2 इंटरनेशनल कम्पनियाँ कोशिश में जुटी हैं।
इस दौड़ में अमेरिकी कंपनी GE मढ़ौरा में स्थापित होने वाली डीजल इंजन की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की बोली का इंतजार कर रही है और इसके अलावा फ्रेंच कंपनी एल्सटोम इलेक्ट्रिक इंजन बनाने के लिए लगने वाली यूनिट को लेकर बोली का इंतजार कर रही है।
बताया जा रहा है कि ये दोनों निवेश ही सबसे बड़े विदेशी निवेश साबित होंगे। दोनों ही यूनिट्स के मामलों को देख रहे अधिकारी का यह कहना है कि ये परियोजनाएं काफी समय से अटकी पड़ी हुई है और इस बात की भी उम्मीद है कि सितम्बर तक इसे मंजूरी दे दी जाए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top