Top

राफेल डीलः राहुल का पीएम पर निशाना, जानें क्या है पूरा मामला

हरिभूमि ब्यूरो / नई दिल्ली | UPDATED Feb 12 2019 8:45PM IST
राफेल डीलः राहुल का पीएम पर निशाना, जानें क्या है पूरा मामला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक और प्रहार किया है कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने। इस बार फाइल की कोई नोटिंग नहीं या अखबार की कोई खबर नहीं बल्कि जरिया बनी है एक ईमेल। पत्रकारों को एआईसीसी मुख्यालय में उद्योगपति अनिल अंबानी और फ्रांस के रक्षा मंत्री के बीच हुए गुप्त ईमेल की प्रति जारी करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने दो टूक आरोप लगाया, राफेल-डील करते हुए प्रधानमंत्री अनिल अंबानी के लिये मिडिल-मैन की भूमिका में थे।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री की फ्रांस यात्रा होती और राफेल-डील अंतिम रूप में परिणत होता उससे 10 दिन पहले अनिल अंबानी पेरिस जाते हैं वहां के रक्षामंत्री से मिलते हैं उसी के बाद 36 राफेल विमानों का सौदा भारत के रक्षा मंत्रालय के साथ तय हो जाता है। राहुल गांधी ने दावा किया कि अनिल अंबानी को राफेल-डील के बारे में तब पता था जब देश के रक्षा सचिव और विदेश सचिव को भी जानकारी नहीं थी। बड़ा आरोप लगाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया है। 

क्या है ईमेल का मामला
राहुल गांधी ने जो गुप्त ईमेल की जानकारी पत्रकारों के साथ साझा की है वो एयर-बस की आधिकारिक ईमेल पर 28 मार्च 2015 को किया गया था जिसमें एक गुपनीय बैठक का जिक्र करते हुए सुझाव दिया गया था कि जितनी जल्दी हो उसे बुलाया जाए। ईमेल के विषय में लिखा था- अंबानी।
 
रिलायंस की सफाई
रिलायंस डिफेंस ने सफाई जारी करते हुए कहा कि फ्रांस के रक्षामंत्री के साथ हुई बैठक की असलियत को जानबूझ कर तोड़ा मरोड़ा गया है। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि उस बैठक का आशय था ‘मेक इन इंडिया’ मूव के तहत नेवी के लिये 2015 में 100 हेलीकॉप्टर्स बनाने में फ्रांस की एयर बस कंपनी की मदद लेना। उस बैठक में एयर बस कंपनी की ओर से रिलायंस डिफेंस को बता दिया गया था कि इस सौदा के लिये कई अन्य दावेदारों से भी बातचीत चल रही है। बाद में वो काम महिंद्रा कंपनी को मिला था। प्रवक्ता ने दावा किया कि जो ईमेल कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा जारी किये गये हैं वे 100 हेलीकॉप्टर्स से संबंधित बैठक के हैं उससे राफेल सौदे का कोई लेना देना नहीं।
 
सीएजी रिपोर्ट का उड़ाया मजाक
कांग्रेस अध्यक्ष ने राफेल सौदे पर संसद में टेबल होने वाली सीएजी रिपार्ट में संभावित रूप से मूल्य का डिटेल्स नहीं होने के सवाल पर कटाक्ष करते हुए कहा, ये चौकीदार ऑडिटर जनरल रिपोर्ट है जिसे चौकीदार ने ही बनाया है तो ऐसी किसी रिपोर्ट से क्या उम्मीद की जा सकती है!
 
भाजपा का पलटवार
केंद्र सरकार के वरिष्ठ मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए सवाल खड़े किये। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को एक निजी कंपनी के ईमेल पर क्या बातचीत हुई उसकी सूचना कहां से मिली, इस पर संशय है, स्थिति साफ होनी चाहिए। उन्होंने जोर देकर कहा कि अब तक शर्मनाक तरीके से विभिन्न कंपनियों के लिए लॉबिस्ट की तरह काम करने वाले राहुल गांधी देश के लिये ईमानदारी से काम करने वाले प्रधानमंत्री पर सवाल उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी लाख कोशिशें कर ले मगर देश की सुरक्षा से खिलवाड़ नहीं किया जाएगा राफेल लड़ाकू जहाजों का बेड़ा फौज का हिस्सा बनेगा।
 

ADS

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
rahuls targets pm modi over rafael deal know what is the whole case

-Tags:#Rafael Deal#Rahul Gandhi#Narendra Modi#Congress#Lok Sabha Elections 2019#Reliance Defense#Make in India

ADS

मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo