Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राहुल गांधी के अमेरिका में बोलने से भारतीय राजनीति में हलचल

राहुल ने कहा कि जितनी नौकरियां पैदा होनी चाहिए उतनी नहीं हुई हैं।

राहुल गांधी के अमेरिका में बोलने से भारतीय राजनीति में हलचल

अमेरिकी विश्वविद्यालयों में राहुल गांधी के बोलने से भारतीय राजनीति में सरगर्मी पैदा हो गई है। पहले बर्कले यूनिवर्सिटी और अब प्र‌ि‌ंस्टन यूनिवर्सिटी में दिए गए उनके बयानों की भारत में चर्चा हो रही है।

देश के दिग्गज नेता उनके बयानों में अपनी प्रतिक्रियाएं जाहिर कर रहे हैं। आमतौर पर कांग्रेस उपाध्यक्ष की बातों को अनसुनी करने वाली भारतीय राजनीति, अमेरिका में उनके बोलने के बाद उनकी बातों में दिचलस्पी ले रही है।

बर्कले यूनिवर्सिटी में उनके बयान के बाद भाजपा नेता स्मृति ईरानी व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उनकी निंदा की थी। प्रिंस्टन यूनिवर्सिटी में उनके बयानों पर बुधवार को भाजपाध्यक्ष अमित शाह ने तंज कसे।

इससे पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष ने मंगलवार को अमेरिका की प्रिंस्टन यूनिवर्सिटी में छात्रों से मुलाकात की। बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी पर जमकर निशाना साधा। राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार रोजगार पैदा करने में असफल रही है।

राहुल ने बताया की भारत में राजनीकित प्रणाली का केंद्रीकरण और रोजगार उत्पत्ती सबसे मुख्य समस्या है। इसके साथ ही राहुल ने कहा कि शिक्षा और स्वास्थय पर भी सरकार ने कम बजट रखा है।
राहुल ने कहा कि जितनी नौकरियां पैदा होनी चाहिए उतनी नहीं हुई हैं। हर दिन 30,000 बेरोजगार युवक आ रहे हैं लेकिन नौकरियां सिर्फ 400 पैदा हो पा रही हैं। राहुल ने कहा कि सिस्टम को चुनौतियों का सामना करना चाहिए। उन्होंने कहा कि उन चुनौतियों से केंद्र सरकार लड़ नहीं पा रही है.
राहुल ने मोदी सरकार की मेक इन इंडिया योजना पर चर्चा के दौरान कहा कि मेरे ख्याल से मेक इन इंडिया में छोटे उद्योंगों को टार्गेट करना चाहिए लेकिन बड़े उद्योगों पर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है।
राहुल ने कहा कि भारत में कानून निर्माण की प्रक्रिया को और पार्दर्शी बनाने की आवश्यकता है और मैं इसे पार्टी के अंदर भी लागू करता रहता हूं। उन्होंने कहा कि सबको ये पसंद नहीं आता क्योंकि ये शांति भंग करता है।
उन्होंने कहा कि डीसेंट्रलाइजेशन हमेशा अच्छा होता है और इसे उचित स्तर पर लागू किया जाना चाहिए। राहुल ने कहा कि दुनिया की बात करें तो भारत ने बड़ी संख्या में गरीबी को जड़ से खत्म किया है। उन्होंने कहा कि भारत में बड़े बदलावों में प्रवासी भारतियों की भी बड़ी भूमिका रही है।
Next Story
Top