Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

प्रधानमंत्री के पास 3000 महिलाओं के सामने खड़े होकर उनसे सवाल करने की हिम्मत क्यों नहीं है : राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज चेन्नई पहुंचे हैं। यहां पर वह राज्य में छात्रों के साथ बातचीत सहित कई कार्यक्रमों में भाग लेंगे। सबसे पहले राहुल गांधी चेन्नई के स्टेला मारिस कॉलेज पहुंचे और यहां पर विद्यार्थियों बातचीत की।

प्रधानमंत्री के पास 3000 महिलाओं के सामने खड़े होकर उनसे सवाल करने की हिम्मत क्यों नहीं है : राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज चेन्नई पहुंचे हैं। यहां पर वह राज्य में छात्रों के साथ बातचीत सहित कई कार्यक्रमों में भाग लेंगे। सबसे पहले राहुल गांधी चेन्नई के स्टेला मारिस कॉलेज पहुंचे और यहां पर विद्यार्थियों बातचीत की।

विद्यार्थियों से बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि वर्तमान में भारत में विचारधाराओं की लड़ाई चल रही है। जो कि दो विचारधाराओं के बीच तेजी से विभाजित है। एक विचारधारा है कहना है कि सारे देश के लोगों को एक साथ रहना चाहिए और किसी एक विचार पर हावी नहीं चाहिए।

दूसरी विचारधारा वर्तमान केंद्र सरकार और पीएम मोदी की है, और उनका मानना है कि एक ही विचार पूरे देश में लागू होना चाहिए। समाज में महिलाओं, विभिन्न भाषाओं और संस्कृतियों की भूमिका को लेकर भी उनका अलग विचार है।

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि आपने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस तरह से 3000 महिलाओं के बीच कितनी बार खड़े होते देखा है? आपने उन्हें किनती बार इस तरह से खुले में खड़े देखा है जो कोई भी सावल कोई भी कर सके?

राहुल गांधी ने आगे कहा कि आप में से कितने लोगों को उनसे सवाल पूछने का अवसर मिला है कि 'श्रीमान प्रधानमंत्री, आप शिक्षा के बारे में क्या सोचते हैं? आप इस बारे में क्या सोचते हैं? तुम उसके बारे में क्या सोचते हो?' प्रधानमंत्री के पास 3000 महिलाओं के सामने खड़े होकर उनसे सवाल करने की हिम्मत क्यों नहीं है?

सरकार को हर व्यक्ति की जांच करने का पूरा अधिकार है। कानून सभी पर समान रूप से लागू होना चाहिए, न कि चुनिंदा लोगों पर। पीएम मोदी का नाम सरकार के दस्तावेजों में है जो कि राफेल पर दसॉल्ट के साथ समानांतर रूप से बातचीत करने के लिए सीधे जिम्मेदार हैं। सभी की जांच करें, चाहे वह मिस्टर वाड्रा हों या पीएम

Next Story
Top