Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राफेल डील पर राहुल ने मोदी सरकार को घेरा, फ्रांस से मिला मुंहतोड़ जवाब

राहुल गांधी ने मोदी सरकार को राफेल एयरक्राफ्ट खरीद घोटाले पर घेरा था।

राफेल डील पर राहुल ने मोदी सरकार को घेरा, फ्रांस से मिला मुंहतोड़ जवाब

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार को राफेल एयरक्राफ्ट खरीद घोटाले पर घेरा था। कांग्रेस की ओर से आरोप लगाया गया कि जहाजों की कीमत 526 करोड़ है, जबकि 1571 करोड़ का हुआ है। राहुल ने ट्वीट करके राफेल डील पर सवाल खड़े किए हैं।

इसपर फ्रांस ने राहुल को मुंहतोड़ जवाब दिया है। फ्रांस ने कांग्रेस का नाम लिए बिना जवाब देते हुए कहा कि राफेल डील में किसी भी तरह का घोटाला नहीं हुआ है। फ्रांस की ओर से कहा गया कि किसी भी तरह का दावा करने से पहले फैक्ट्स चेक जरूर कर लें।
फ्रांस के एक अधिकारी ने एक मीडिया चैनल से बातचीत के दौरान कहा कि मैं भारत की आंतरिक राजनीति में हस्तक्षेप नहीं करूंगा। लेकिन डील में कुछ गलत नहीं हुआ है। जेट्स की डील उनकी परफॉर्मेंस के आधार पर हुई है।
कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने राफेल एयरक्राफ्ट खरीद मेंमोदी सरकार पर घोटाले का आरोप लगाया ता। उन्होंने कहा कि राफेल खरीद में किसी तरह की पार्दर्शिता नहीं है। सुरजेवाला के मुताबिक मोदी सरकार इस सौदे से राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रही है। उन्होंने दावा किया की जहाजों की कीमत 526 करोड़ है जबकि डील को 1571 करोड़ की हुई थी।
डील की शर्त ये थी कि 18 राफेल एयरक्राफ्ट फ्रांस में बनेंगे और कंपनी की मदद से 108 एयक्राफ्ट भारत में बनेंगे। सुरजेवाला ने कहा कि 126 एयरक्राफ्ट खरीदने के लिए नोटिस जारी की गई थी। डील के लिए दो कंपनियां सामने आईं। जिसमें से एक राफेल बनाने वाली कंपनी दसॉल्ट का चयन हुआ।
गौरतलब है कि 23 सितंबर 2016 को फ्रांस के रक्षामंत्री ज्यां ईव द्रियां और भारत के तत्कालीन रक्षामंत्री मनोहर पर्रीकर ने नई दिल्ली में साइन की थी। डील 59,000 करोड़ की थी जो कि फ्रांस से की गई थी। डील के अनुसार 36 राफेल फाइटर जेट विमान मिलने हैं। पहला विमान सितंबर 2019 तक मिलने की उम्मीद है और बाकी विमान 2022 तक धीरे-धीरे कर के मिल जाएंगे।
Next Story
Top