Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला, बोले- गुजरात में कोई खुश नहीं, रिमोट से चलते हैं रुपाणी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अपने गुजरात दौरे में जनता के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा तीखे हमले कर रहे हैं।

राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला, बोले- गुजरात में कोई खुश नहीं, रिमोट से चलते हैं रुपाणी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी जहां सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अपने सवालों के जरिए घेर रहे हैं, वहीं अपने गुजरात दौरे में जनता के बीच जाकर तीखे हमले कर रहे हैं। अमरेली के एक जनसभा में आज राहुल गांधी ने फिर से पीएम मोदी पर बड़ा हमला किया है।

पढ़ें: नाराज कोडलधाम के चेयरमैन नरेश पटेल से बंद कमरे मिले हार्दिक पटेल, अटकलें तेज

राहुल गांधी ने कहा कि आज गुजरात में कोई भी खुश नहीं है। इसकी वजह है कि गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी खुद रिमोट से चलते हैं। उन्होंने कहा कि गुजरात के किसान से लेकर कारोबारी तक भाजपा की नीतियों से खुश नहीं है।

पढ़ें: चंडीगढ़ दुष्कर्म मामला : किरण खेर बोलीं- पीड़िता को ऑटोरिक्शा में नहीं बैठना था

उद्योगपतियों के लिए ही काम कर रहे हैं पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा के राज में सिर्फ उद्योगपतियों को ही फायदा हो रहा है। इसकी वजह है कि मोदी जी उद्योगपतियों के लिए ही काम कर रहे हैं।

पढ़ें: राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर दागा दूसरा सवाल- हर गुजराती पर 37,000 कर्ज क्यों?

टाटा के नैनो प्रोजेक्ट को आढ़े हाथ लेते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आज गुजरात में कोई नैनो कार ढूंढे नहीं मिलती है, जबकि इसके लिट भाजपा सरकार ने टाटा ग्रुप को मोटा फायदा पहुंचाया था।

पढ़ें: मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर ने की पीएम मोदी से दिल्ली में खास मुलाकात

पीएम मोदी को रोने लिए कॉन्टेक्ट लैंस की जरूरत नहीं

इससे पहले राहुल गांधी ने अमरेली की एक और रैली में पीएम मोदी पर करारा हमला किया। उन्होंने कहा पीएम मोदी चुनाव से ठीक पहले ही आंसुओं को बहाना शुरू कर देते हैं। सच्चाई तो यह है कि वह इतने बड़े एक्टर हैं कि उन्हें रोने के लिए किसी कॉन्टेक्ट लैंस की जरूरत नहीं है।

पढ़ें: गुजरात चुनाव को लेकर सट्टा बाजार भी गर्म, भाजपा को कड़ी टक्कर दे रही है कांग्रेस

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि मोदी जी अपने किए हुए वायदे भूल जाते हैं। 2012 में ही उन्होंने गुजरात की जनता को 50 लाख नए घर देने का वायदा किया था, लेकिन पांच साल में सिर्फ 4.72 लाख घर ही दे पाए हैं।

Next Story
Share it
Top