Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राफेल सौदे पर पूरी दाल ही काली: राहुल गांधी

लोकसभा में सदन का कार्यवाही चल रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज लोकसभा में राफेल डील को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

राफेल सौदे पर पूरी दाल ही काली: राहुल गांधी

लोकसभा में सदन की कार्यवाही चल रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज लोकसभा में राफेल डील को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। लगभग सदन में दो बजे राफेल डील पर चर्चा शुरू हो गई। इस दौरान राहुल गांधी राफेल डील सवाल उठाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपीए के डील को क्यों बदला, क्या वायु सेना की ओर से इसका मांग की गई थी? सदन में राहल गांधी ने बोले डील की कीमत बढ़कर तीन गुना कैसे हो गई?

पीएम मोदी से राहुल गांधी ने सवाल करते हुए कहा कि क्यों एचसीएल को ऑफसेट पार्टनर नहीं बनाया गया। क्यों पीएम मोदी के दोस्त और बिजनेसमैन अनिल अंबानी की कंपनी को डील का पार्टनर बनाया गया। उन्होंने आगे कहा कि पीएम मोदी ने पिछली बार सदन में आकर मेरा भाषण सुना था। लेकिन आज पीएम मोदी के अंदर सदन के भीतर आने की हिम्मत नहीं है। रक्षा मंत्री और पीएम मोदी एआईएडीएमके के सांसदों के पीछे छिप रहे हैं। राफेल डील में बहुत गड़बड़ी हुई है। पूरी की पूरी दाल ही काली है।

राहुल गांधी लोकसभा में राफेल डील पर बोल रहे हैं और भाजपा सांसद सांसद सीट से खड़े होकर राहुल गांधी के बयान का विरोध कर रहे हैं। राहुल गांधी ने सदन में उस ऑडियो टेप की इजाजत मांगी। जिसमें मनोहर पर्रिकर ने कहा कि राफेल सौदे से जुड़ी फाइले उनके शयनयान में पड़ी हैं।

लेकिन स्पीकर ने सदन में कोई रिकॉर्ड नहीं बजा सकता है। साथ ही कहा कि बयान को बगैर पुष्टि के नहीं पढ़ा जा सकता है। पुष्टी के बाद ही सदन के भीतर बयान पड़ा जा सकता है।

इसके बाद राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा के लोग टेप से डरे हुए हैं तो वह सदन में टेप को नहीं बजाएंगे। लेकिन अरुण जेटली ने इस ऑडियो टेप को फर्जी बताया। राहुल गांधी बोले पूर्व रक्षा मंत्री और गोवा के सीएम ने सबके सामने बोला है कि राफेल की फाइलें मेरे पास पड़ी हुई हैं। राहुल गांधी ने कहा कि राफेल डील के पुराने करार के मुताबिक एचसीएल विमान बनता है। जिससे लाखों नौजवानों को रोजगार मिलता है।

राहुल गांधी ने कहा कि डबल A की जेब ने तीस हजार करोड़ रुपए डाले गए। इसी दौरान राहुल गांधी से स्पीकर ने अनिल अंबानी का नाम लेने के लिए मना किया। उन्होंने आगे कहा कि राफेल मामले में JPC जांच होनी चाहिए। क्योंकि सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि राफेल डील की जांच उनके दायरे में नहीं है।

फ्रांस के राष्ट्रपति ने सार्वजनिक बयान में स्पष्ट रूप से क्यों कहा कि पीएम ने उनसे कहा है कि वो उनकी तरफ से श्री अंबानी को चुनें? राहुल गांधी ने कहा की पीएम मोदी को तरफ से भी राफेल की फाइलिंग में दखल दी गई है, यह बात रक्षा मंत्रालय की ओर से कही गई है। राहुल गांधी ने कहा कि पूरा देश पीएम मोदी पर उंगली उठा रहा है।

Loading...
Share it
Top