Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंजाब: तीन महीने बाद सड़कों पर नहीं दिखेंगी गायें

गौशाला का निर्माण किया जा रहा है।

पंजाब: तीन महीने बाद सड़कों पर नहीं दिखेंगी गायें
नई दिल्ली. पंजाब गौसेवा आयोग ने कहा है कि राज्य में सडकों पर भटकते आवारा अथवा लावारिस गौ धन के पुनर्वास के लिए प्रदेश सरकार सूबे के सभी 22 जिलों में औसतन दो दो करोड़ रुपये की लागत से एक एक गौशाला का निर्माण करवा रही है जो अगले तीन महीने में बन कर तैयार हो जाएंगी और इस समय अवधि के बाद राज्य की सडकों पर किसी भी गौधन को नहीं भटकने दिया जाएगा।

गौशाला का होगा निर्माण
पंजाब गौसेवा आयोग के चेयरमैन कीमती लाल भगत ने कहा कि पंजाब सरकार आयोग की देख-रेख में राज्य के सभी 22 जिलों में एक एक गौशाला का निर्माण करवा रही है। इस पर 44 करोड रुपये खर्च किये जायेंगे और राज्य सरकार ने ये राशि जारी कर दी है। भगत ने बताया कि सडकों पर भटकते एक लाख छह हजार से अधिक गौधन के पुनर्वास के लिए आयोग पूरी तरह प्रतिबद्ध है। मैने गौशाला के बारे में पंजाब सरकार के पास अपनी योजना रखी थी जिस पर मुख्यमंत्री ने न केवल मुहर लगायी बल्कि इसके लिए 22 करोड रुपये की पहली किस्त भी जारी कर दी।
तीन महीने में होगी तैयार
उन्होंने बताया कि रविवार को दोबारा मेरी मुख्यमंत्री के साथ बैठक हुई और गौशाला निर्माण की प्रगति रिपोर्ट को देखते हुए मुख्यमंत्री ने 22 करोड रुपये की दूसरी किस्त भी जारी कर दी । इस तरह प्रदेश के सभी 22 जिलों में औसतन दो दो करोड रुपये खर्च कर गौशाला का निर्माण कार्य करवाया जा रहा है । चेयरमैन ने बताया कि अगले तीन महीने में यह पूरी तरह बन कर न केवल तैयार हो जाएगी बल्कि सडकों पर भटकते गौधन को भी वहां स्थानांतरित कर दिया जाएगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top