Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भड़काऊ भाषण के मामले में उमर और जिग्नेश की बढ़ी मुश्किलें, FIR दर्ज कराने की मांग

मेवाणी और खालिद के खिलाफ विभिन्न समुदायों के बीच शत्रुता को कथित तौर पर बढ़ावा देने के लिये प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की गई है।

भड़काऊ भाषण के मामले में उमर और जिग्नेश की बढ़ी मुश्किलें, FIR दर्ज कराने की मांग

पुलिस ने आज कहा कि उसे गुजरात के विधायक और दलित कार्यकर्ता जिग्नेश मेवाणी और दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र नेता उमर खालिद के खिलाफ 31 दिसंबर को यहां एक कार्यक्रम में भड़काऊ भाषण देने को लेकर एक शिकायत मिली है।

मेवाणी और खालिद ने यहां ‘एल्गार परिषद' में हिस्सा लिया था। इस कार्यक्रम का आयोजन शहर के शनिवार वाडा में गत 31 दिसंबर को भीमा-कोरेगांव की लड़ाई के 200 साल पूरे होने के मौके पर किया गया था।
शिकायतकर्ताओं अक्षय बिक्कड़ और आनंद धोंड के अनुसार मेवाणी और खालिद ने कार्यक्रम में भड़काऊ भाषण दिया था। बिक्कड़ और धोंड ने डेक्कन जिमखाना थाने को एक आवेदन दिया और मेवाणी और खालिद के खिलाफ विभिन्न समुदायों के बीच शत्रुता को कथित तौर पर बढ़ावा देने के लिये प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की।
वहीं दलित नेता ने पीएम मोदी पर आज निशाना साधते हुए अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से लिखा, 'मोदी जी 200 साल पहले युद्ध के मैदान में वो पांच सौ थे तो भी जीते थे, 2019 में चुनाव के मैदान में हम पच्चीस करोड़ लोग आपको करारा जवाब देंगे। '
Share it
Top