Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पुलवामा हमलाः जानें बीते 48 घंटे में क्या-क्या हुआ?

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए बड़े आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान की शरहदों पर तनाव है। दोनों देशों की ओर से बयानों के जरिए एक दूसरे पर हमला किया जा रहा है। पिछले दो दिनों में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय घटनाक्रम तेजी से बदले हैं।

पुलवामा हमलाः जानें बीते 48 घंटे में क्या-क्या हुआ?

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए बड़े आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान की शरहदों पर तनाव है। दोनों देशों की ओर से बयानों के जरिए एक दूसरे पर हमला किया जा रहा है। पिछले दो दिनों में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय घटनाक्रम तेजी से बदले हैं। वित्त मंत्री अरूण जेटली ने जहां पाकिस्तान को दुष्ट देश करार दिया, वहीं एफएटीएफ में ब्लैक लिस्ट में जाने के डर से पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद को कब्जे में लिया है। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि पाकिस्तान ने अमेरिकी मदद का गलत फायदा उठाया है। आइए जानते हैं पिछले 48 घंटों में क्या- क्या हुआ।

  • शुक्रवार को पाकिस्तान की इमरान सरकार ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुख्यालय को अपने कब्जे में लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो फाइनेंशिएल एक्शन टास्क फोर्स की ओर से ब्लैक लिस्ट में डाले जाने के डर से पाक सरकार ने यह कदम उठाया है। पाकिस्तान अभी ग्रे लिस्ट में है। इससे पहले एफएटीएफ पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ एक्शन लेने की चेतावनी दे चुका है।
  • शरहद पर तनाव के बीच पाक सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने पुलवामा हमले के बाद एलओसी का पहला दौरा किया है। इस दौरान बाजवा ने पाक सैनिकों को चौकन्ना रहने को कहा।
  • पाकिस्तान की ओर से भारत को चेतावनी दी गई कि अगर वह कोई भी आक्रामक सैन्य कदम उठाता है तो उसका ‘अप्रत्याशित' जवाब दिया जाएगा। सेना के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे हैं, आप (भारत) धमकी दे रहे हैं। हमें धमकियों का जवाब देने का अधिकार है। हम पहल करने की तैयारी नहीं कर रहे हैं, बल्कि बचाव और जवाब की योजना बना रहे हैं जो हमारा अधिकार है।"
  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते बेहद ख़राब और ख़तनाक हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए। पुलवामा हमले की चर्चा करते हुए ट्रंप ने कहा कि आतंकी हमले में बहुत लोग मारे गए और ये नहीं होना चाहिए। ट्रंप ने इस हमले की निंदा करते हुए कहा कि कश्मीर की वजह से भारत-पाक के बीच के रिश्ते ख़राब हो रहे हैं।
  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ने कहा कि पाकिस्तान ने अमेरिकी मदद का गलत फायदा उठाया। पाकिस्तान ने अमेरिका से वादाखिलाफ़ी की। इस वजह से पाक को 1.3 अरब डॉलर की मदद रोकी गई।
  • अलगाववादी नेता यासीन मलिक समेत 150 हिरासत में लिए गए। केंद्रीय गृहमंत्रालय ने करीब दस हजार अतिरिक्त जवानों को जम्मू-कश्मीर में तैनात करने का सर्कुलर जारी किया। .
  • पाकिस्तान ने वार्ता की पेशकश की। पाक सेना प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम कह रहे हैं कि आइए हमले पर बात करें, आतंकवाद और शांति के बारे में बात करें। सबसे बड़ा मुद्दा कश्मीर है और आइए इस बारे में बात करें।'उन्होंने कहा, ‘‘हम दो लोकतंत्र हैं और लोकतंत्र झगड़ा नहीं करते।'
  • चीन ने कहा कि पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन का जिक्र सिर्फ सामान्य संदर्भ में हुआ है और यह किसी फैसले को प्रदर्शित नहीं करता है। सुरक्षा परिषद ने इस जघन्य और कायराना आतंकी हमले की गुरुवार को कड़े शब्दों में निंदा की थी।
  • केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भारत के अधिकार क्षेत्र का पानी इस्तेमाल करने की बात कही और पाकिस्तान की ओर जाने वाले पानी को रोकने को लेकर बयान दिया।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी लड़ाई आतंकवाद और मानवता के दुश्मनों से है, कश्मीर और कश्मीरियों से नहीं। मोदी ने कहा कि कश्मीरी लोगों के साथ मारपीट जैसी बातें नहीं होनी चाहिए।
Loading...
Share it
Top