Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

खुदरा बाजारः दलहन कीमतों में जल्द दिखेगा गिरावट का असर

पासवान ने कहा, जमाखोर अधिक समय तक अपने स्टॉक को जमा नहीं रख सकते हैं।

खुदरा बाजारः दलहन कीमतों में जल्द दिखेगा गिरावट का असर
नई दिल्ली. खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने गुरुवार को कहा कि दलहन के थोक बिक्री मूल्य में क्रमश: गिरावट आ रही है और खुदरा बाजार में इसका असर जल्द ही दिखने लगेगा क्योंकि अगले महीने से नई फसल की आवक होने के कारण जमाखोर स्टॉक को अधिक समय तक जमा नहीं रख पाएंगे।
मौजूदा समय में दलहनों के थोक बिक्री मूल्य में गिरावट का रुख दिखाई देने के बावजूद अधिकांश दलहनों की खुदरा कीमतें देश भर में अभी भी अधिक बनी हुई हैं। सरकार के आंकड़ों के अनुसार खुदरा बाजार में तुअर की दाल 170 रुपए किलो, उड़द की 175 रुपए किलो, मूंग 130 रुपए किलो, चना 120 रुपए किलो और मसूर की दाल 115 रुपए किलो के दाम पर उपलब्ध हैं।
जमाखोर भी स्टॉक बाजार में लाएंगे
फिक्की के एक आयोजन के मौके पर पासवान ने कहा, थोक बिक्री बाजार में कुल दलहनों, विशेषकर मूंग दाल की कीमत में गिरावट का रुख दिखाई दे रहा है। इसका खुदरा बाजार पर असर जल्द ही दिखने लगेगा। अगले महीने से नई फसल के आने के साथ एक बार जमाखोर भी अपने स्टॉक को बाजार में लाना शुरू कर देंगे उससे भी दलहनों की खुदरा कीमतों में गिरावट आयेगी।
मूंग की कीमतों में भारी गिरावट
पासवान ने कहा कि देश के कुछ भागों में मूंग के थोक बिक्री दर में भारी गिरावट के साथ किसानों ने सरकार से मांग की है कि वह एमएसपी की दर पर दलहनों की खरीद करे।
आरंभ में इन एजेंसियों को कर्नाटक और राजस्थान से मूंग की खरीद करने को कहा गया है जहां नये फसल की थोड़ी मात्रा में बाजार में आमद शुरू हो गई है। सरकार को फसल वर्ष 2016-17 में दो करोड़ टन दलहन उत्पादन होने की उम्मीद है जो पिछले वर्ष के एक करोड़ 64.7 लाख टन से काफी ऊंचा होगा।
पासवान ने कहा, जमाखोर अधिक समय तक अपने स्टॉक को जमा नहीं रख सकते हैं। हमारे पास पर्याप्त आपूर्ति होगी क्योंकि हमें इस फसल के भारी पैदावार होने की उम्मीद है और हमने आयात के लिए कई देशों से समझौता भी किया हुआ है। उन्होंने कहा कि दलहन के अधिक सर्मथन मूल्य घोषित किये जाने के कारण किसानों ने इस वर्ष अधिक रकबे में दलहन की बुवाई की है और बेहतर मानसून के कारण दलहन की बेहतर पैदावार होने की संभावना बढ़ी है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top