Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रघुराम राजन के साथ हैं अच्छे पेशेवर संबंध: अरुण जेटली

वित्त मंत्री ने कहा कि लगातार दो साल खराब मानसून के बाद अब यदि इस साल भी कम बारिश होती है तो यह पूरी प्रणाली की परीक्षा होगी।

रघुराम राजन के साथ हैं अच्छे पेशेवर संबंध: अरुण जेटली

मुंबई. वित्त मंत्री अरूण जेटली ने रिजर्व बैंक के साथ किसी भी तरह के मतभेद से साफ इनकार किया। उन्होंने वित्त मंत्रालय के अधिकारियों और आरबीआई के बीच असहमति की खबरों पर चुटकी लेते हुए कहा कि यह 'साजिश की परिकल्पना करने के हमारे राष्ट्रीय प्रेम' का नतीजा है।

ये भी पढ़ें: मोबाइल बैंकिंग में एसबीआइ की 38% बाजार भागीदारी

जेटली ने कहा कि उनके रिर्जव बैंक गवर्नर रघुराम राजन के साथ अच्छे पेशेवर संबंध है। उन्होंने कहा, 'मेरा मानना है कि भारत में आम तौर पर लोग साजिश की परिकल्पना करना पसंद करते हैं।' इंडियन एक्सप्रेस अखबार के पूर्व संपादक शेखर गुप्ता और टेलीविजन पत्रकार बरखा दत्त के मीडिया स्टार्ट-अप 'द प्रिंट' के उद्घाटन के मौके पर मंत्री ने कहा, 'मुझे लगता है कि चाहे नार्थ ब्लाक (वित्त मंत्रालय) हो या मिंट रोड (आरबीआई), ये जिम्मेदार संस्थान हैं। बहुत से लोग हैं जो शांत रहकर अपना काम करते हैं क्योंकि उनकी प्राथमिकताएं स्पष्ट हैं।

ये भी पढ़ें: अंडों की भी होती है 'बेस्ट बिफोर' और 'बेस्ट बाय' डेट

जेटली ने हालांकि, इस सवाल को टाल दिया कि राजन को तीन सितंबर का कार्यकाल पूरा होने पर आरबीआई प्रमुख के तौर पर दूसरा मौका मिलेगा या नहीं।

वित्त मंत्री ने कहा कि लगातार दो साल खराब मानसून के बाद अब यदि इस साल भी कम बारिश होती है तो यह पूरी प्रणाली की परीक्षा होगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना अप्रैल से मिशन के तौर पर पेश की जाएगी ताकि इस साल से ही खरीफ मौसम की फसल को बीमा सुरक्षा प्रदान की जा सके। जेटली ने कहा कि इस योजना में कृषि क्षेत्र की मुश्किलें दूर करने और देश को किसानों की आत्महत्या के कलंक से मुक्त करने की क्षमता है। किसानों की आत्महत्या से देश के कई हिस्से प्रभावित हैं।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top