Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आज से लागू होगी ''प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन वृहद पेंशन योजना''

देश में श्रमिकों के सामाजिक सुरक्षा के दायरे को बढ़ाते हुए असंगठित क्षेत्र के अंतिम छोर तक के श्रमिकों के लिए तीन हजार मासिक पेंशन का लाभ देने वाली ‘प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन वृहद पेंशन योजना’ को पटरी पर उतार दिया है।

आज से लागू होगी

देश में श्रमिकों के सामाजिक सुरक्षा के दायरे को बढ़ाते हुए असंगठित क्षेत्र के अंतिम छोर तक के श्रमिकों के लिए तीन हजार मासिक पेंशन का लाभ देने वाली ‘प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन वृहद पेंशन योजना’ को पटरी पर उतार दिया है। इसके लिए कल शुक्रवार यानि 15 फरवरी से देशभर में ऐसे श्रमिकों को योजना से जोड़ने के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है।

केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना में ‘प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन वृहद पेंशन योजना’ 15 फरवरी से प्रवृत्त होगी, जिसमें असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे 15 हजार रुपये मासिक आमदनी करने वाले घरेलू नौकर, फेरीवाले, पटरी, मिड-डे मीलकर्मी, ईंट भट्टा मजदूर, मोची, कूडा बिनने वाले, धोबी, रिक्शा चालक, ग्रामीण भूमिहीन श्रमिक, कृषि कर्मकार, बीडी श्रमिक, हथकरघा, चमड़ा या अन्य किसी भी प्रकार के रोजगार में श्रम करने वालों को इस योजना के सदस्य बनने का विकल्प दिया गया है।

क्या है पेंशन योजना

सरकार की ‘प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन वृहद पेंशन योजना’ में असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों द्वारा स्वेच्छा से जितना मासिक योगदान होगा उतना ही अंशदान केंद्र सरकार करेगी। मसलन असंगठित क्षेत्र के 18 वर्ष की आयु वाले उन कामगारों को प्रति माह न्यूनतम 55 रुपये जमा कराने होंगे और उतनी ही राशि उनके खाते में केंद्र सरकार जमा कराएगी।

इस पेंशन योजना से जुड़ने वाले ऐसे श्रमिक अपनी कार्यशील आयु के दौरान एक छोटी सी राशि के मासिक अंशदान से 60 वर्ष की उम्र से 3000 रुपये की निश्चित मासिक पेंशन पाने के हकदार होंगे।

वहीं 29 वर्ष की उम्र में इस पेंशन योजना से जुड़ने वाले असंगठित क्षेत्र के कामगार को 100 रुपये प्रति माह का अंशदान 60 वर्ष की उम्र तक करना होगा। उतनी ही राशि केंद्र सरकार हर महीने उनके पेंशन खाते में जमा करेगी।

Share it
Top