Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नौ फरवरी से 3 देशों की यात्रा पर जाएंगे PM मोदी, फिलिस्तीन जाने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री

पीएम नरेंद्र मोदी की इस यात्रा के दौरान भारत और इन देशों के बीच व्यापार, निवेश, सुरक्षा, आतंकवाद के खिलाफ सहयोग, ऊर्जा समेत द्विपक्षीय संबंधों को और सुदृढ़ बनाने पर जोर दिया जाएगा।

नौ फरवरी से 3 देशों की यात्रा पर जाएंगे PM मोदी, फिलिस्तीन जाने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 9 से 12 फरवरी के बीच फलस्तीन, यूएई और ओमान की यात्रा पर जा रहे हैं। मोदी की इस यात्रा के दौरान भारत और इन देशों के बीच व्यापार, निवेश, सुरक्षा, आतंकवाद के खिलाफ सहयोग, ऊर्जा समेत द्विपक्षीय संबंधों को और सुदृढ़ बनाने पर जोर दिया जाएगा।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने संवाददाताओं को बताया कि इन तीन देशों की प्रधानमंत्री की यात्रा को जमीन के साथ नौवहन सहयोग, व्यापार, निवेश समेत सरकार के घरेलू एवं अंतर्राष्ट्रीय एजेंडे को आगे बढ़ाने की प्रतिबद्धता के तौर पर देखा जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें- मोदी सरकार ला रही है ये दो नए Tax , जानें कैसे आप पर पड़ेगा इसका असर

विदेश मंत्रालय में संयुक्त सचिव (उत्तर) बी बाला भास्कर ने बताया कि अपनी तीन दिवसीय यात्रा के प्रथम चरण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी फलस्तीन जाएंगे। वे 10 फरवरी को रामल्ला जायेंगे। उनका दिवंगत यासर अराफात म्यूजियम जाने का कार्यक्रम है।

इसके बाद प्रधानमंत्री फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास समेत वहां के नेतृत्व के साथ आपसी संबंधों के विभिन्न आयामों पर चर्चा करेंगे। भारत, इस्राइल के साथ बढ़ते सहयोग के बीच फलस्तीन के साथ संबंधों को संतुलित करने पर पूरा जोर दे रहा है।

हाल ही में इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भारत की छह दिवसीय यात्रा पर आये थे। इससे पहले पिछले वर्ष प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस्राइल की यात्रा पर गए थे। लेकिन तब वे फलस्तीन नहीं गए थे।

फलस्तीन के साथ सहयोग के बारे में एक सवाल के जवाब में बाला भास्कर ने कहा कि पिछले तीन वर्षो में फलस्तीन के मुद्दे पर भारत ने अनेक पहल की हैं। इस दौरान तत्कालीन राष्ट्रपति ने फलस्तीन का दौरा किया था और फिर विदेश मंत्री वहां गई थी। पिछले वर्ष फलस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास भारत की यात्रा पर आए थे और अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वहां जा रहे हैं।

विदेश मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि भारत ने हाल ही में संयुक्त राष्ट्र में मतदान के दौरान फलस्तीन के पक्ष में मतदान किया। फलस्तीन को हमारा सहयोग तीन स्तरों पर है जिसमें राजनीतिक, राष्ट्र निर्माण के साथ सुरक्षा सहयोग के बारे में है।

यह भी पढ़ें- पाकिस्तानी एक्ट्रेस ने रईसों की पार्टी में डांस करने से किया इनकार, घर में घुस मारी 11 गोलियां

तत्कालीन राष्ट्रपति की फलस्तीन यात्रा के दौरान 3 करोड़ डालर की परियोजनाओं को आगे बढ़ाने की पहल हुई थी और इसके साथ ही भारत, फलस्तीन आईसीटी पार्क स्थापित करने की बात भी हुई थी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की फलस्तीन की यह यात्रा दोनों देशों के बीच पहले से चले आ रहे मजबूत रिश्तों को और प्रगाढ़ बनाना है।
विदेश मंत्रालय के संयुक्त सचिव (खाड़ी क्षेत्र) मृदुल कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री 10 से 12 फरवरी तक यूएई और ओमान की यात्रा करेंगे। वे 10 फरवरी को देर शाम को यूएई पहुंचेंगे।
Share it
Top