logo
Breaking

साइप्रस में राष्ट्रपति कोविंद ने दोनों देशों के स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास बताया, कही ये बड़ी बातें

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद साइप्रस पहुंचे वहां पर उनका भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान राष्ट्रपति कोविंद ने संबोधित करते हुए दोनों देशों के इतिहास और संघर्ष के बारे में बताया।

साइप्रस में राष्ट्रपति कोविंद ने दोनों देशों के स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास बताया, कही ये बड़ी बातें

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद साइप्रस पहुंचे वहां पर उनका भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान राष्ट्रपति कोविंद ने संबोधित करते हुए दोनों देशों के इतिहास और संघर्ष के बारे में बताया। साथ ही संघर्ष को भी याद किया।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि भारत और साइप्रस ने एक दूसरे के स्वाधीनता आंदोलनों में परस्पर समर्थन दिया था और आजादी प्राप्त करने के बाद, एक राष्ट्र के रूप में प्रगति करने में एक-दूसरे की सहायता की है। साइप्रस की संस्कृति भी भारत की तरह ही प्राचीन संस्कृति है।

इसे भी पढ़ें- राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद साइप्रस, बुल्गारिया और चेक गणराज्‍य की यात्रा पर निकले, जानें पूरा कार्यक्रम

साथ ही आगे उन्होंने एक महान शहीद को याद कर कहा कि भारत के महान सपूत जनरल के.एस. थिमैया ने 1965 में साइप्रस में सेवा के दौरान अपने प्राण त्यागे थे। हम साइप्रस की जनता और यहां की सरकार की सराहना करते हैं।

Loading...
Share it
Top