Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बॉम्बे हाईकोर्ट: सभी महिला कैदी की 7 दिन के भीतर प्रेग्नेंसी जांच अनिवार्य

कोर्ट ने कहा कि महाराष्ट्र में सभी जेलों को इस नियम का अनिवार्य तौर पर पालन करना होगा।

बॉम्बे हाईकोर्ट: सभी महिला कैदी की 7 दिन के भीतर प्रेग्नेंसी जांच अनिवार्य
X
मुंबई. बॉम्बे हाई कोर्ट ने गुरुवार को एक अहम फैसला सुनाते हुए कहा कि प्रेग्नेंट होने की उम्र वाली महिला कैदियों को जेल में डालने के एक हफ्ते के भीतर उनका गर्भ परीक्षण कराना अनिवार्य है। अदालत ने कहा कि महिला कैदियों को जेल में डालने के 7 दिनों के भीतर इस बात की जांच की जाए कि वह गर्भवती है या नहीं। जस्टिस वी के ताहिलरमाणी और जस्टिस मृदुला भाटकर ने फैसला सुनाते हुए कहा कि महाराष्ट्र में सभी जेलों को इस नियम का अनिवार्य तौर पर पालन करना होगा। अदालत ने महिला कैदियों को जेल में मुहैया कराई जाने वाली स्वास्थ्य सुविधाओं के संबंध में दायर एक याचिका पर सुनवाई के दौरान यह आदेश दिया।
एक हफ्ते के अंदर उसके पेशाब की जांच अनिवार्य
हालांकि इस याचिका पर अंतिम फैसला अभी नहीं सुनाया गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, जेल के प्रस्तावित दिशानिर्देशों के संबंध में अदालत ने कहा कि महिला कैदी के गर्भवती होने या नहीं होने के संबंध में जेल आने के एक हफ्ते के अंदर उसके पेशाब की जांच अनिवार्य तौर पर करानी होगी। पहले जांच की रिपोर्ट आने के 28 से 35 दिन के अंदर दूसरी जांच कराई जाएगी। अगर महिला कैदी गर्भवती पाई जाती है, तो जेल का मेडिकल अधिकारी बच्चा रखने या फिर गर्भपात कराने की इच्छा के संबंध में उसका बयान लेगा। अगर महिला कैदी गर्भपात की इच्छा जताती है, तो जेल प्रशासन उसे नजदीकी सरकारी अस्पताल में भेजने की व्यवस्था करेगा।
गर्भपात कराने की अपील
कोर्ट ने कहा कि इस सबके साथ ही मेडिकल अधिकारी महिला कैदियों के गर्भ के बारे में सभी जानकारियां रजिस्टर करेगा और हर महीने जेल का दौरा करने गए मैजिस्ट्रेट को इसकी जांच करनी होगी। इससे पहले 15 हफ्तों की गर्भवती एक विचाराधीन महिला कैदी द्वारा गर्भपात कराने की अपील का मामला अदालत के सामने पेश हुआ था। इस मामले में आदेश सुनाते हुए अदालत ने उस समय ठाणे जेल प्रशासन को आदेश दिया था कि उक्त महिला को सिविल अस्पताल ले जाया जाए और वहां डॉक्टरों से गर्भपात के संबंध में सलाह ली जाए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि
, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top