Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दुनिया के सबसे ऊंचे इलाके तक पहुंचेगी भारतीय रेल

रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने इस खास परियोजना को मंजूरी दे दी है।

दुनिया के सबसे ऊंचे इलाके तक पहुंचेगी भारतीय रेल
नई दिल्ली. दुनिया के सबसे ऊंचे इलाके में शुमार लद्दाख के लिए मनाली होते हुए बिलासपुर तक रेलवे लाइन से जोड़ऩे के काम को तेजी के साथ आगे बढ़ाने को रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने हरी झंडी दे दी है। इस खास परियोजना के लिए भारतीय रेलवे ने लद्दाख ऑटोनोमस हिल डेवलपमेंट काउंसिल (एलएएचडीसी) से जमीन का आवंटन करने की मांग की है, ताकि लेह में कैंप कार्यालय बनाया जा सके।

करीब 50,000 करोड़ रुपए होंगे खर्च
बिलासपुर मनाली लेह रेलवे लाइन बिछाने की इस योजना के अंतिम स्थान सर्वेक्षण को लेकर लेह में उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक एके पूठिया ने स्थानीय सांसद थुपस्तन छेवांग और एलएएचडीसी के अधिकारियों से मुलाकात की। इस योजना के अंतर्गत करीबन 500 किलोमीटर की बिलासपुर से मनाली और फिर लेह की दूरी तय कर, हिमालय की चोटियों से निकलते हुए यह रेलवे लाइन दुनिया के सबसे ऊंचे इलाकों से होकर गुजरेगी। इस योजना पर करीब 50,000 करोड़ रुपए का खर्च होने का अनुमान है।

लेह में जमीन चाहती है रेलवे
बिलासपुर-मनाली-लेह नई रेल लाइन के सर्वेक्षण का काम तेजी से कराने के लिए रेलवे ने (एलएएचडीसी) से जमीन मांगी है ताकि लेह में कैप कार्यालय बनाया जा सके। सरकार तिब्बत के सटे क्षेत्रों में रेल का सघन जाल बिछाना चाहती है। उत्तरी रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हमने एलएएचडीसी के अध्यक्ष से लेह से कैंप कार्यालय बनाने के लिए जमीन देने का अनुरोध किया है।

प्रोजेक्ट के जल्द शुरू किए जाने के पक्ष में रक्षा मंत्रालय
पत्रिका की रिपोर्ट के मुताबिक, मोदी सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में से एक बिलासपुर-मनाली-लेह रेलवे लाइन, लेह-लद्दाख को कनेक्टिविटी देने के इरादे से रक्षा मंत्रालय भी इस प्रोजेक्ट के जल्द से जल्द शुरू किए जाने के पक्ष में है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top