Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

POK में पाक के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, नवाज विरोधी नारे

स्थानीय लोग पाकिस्तान की सरकार और सुरक्षा एजेंसी आइएसआइ का विरोध कर रहे हैं।

POK में पाक के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, नवाज विरोधी नारे
कोटली. पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के कोटली इलाके में आर्मी और खुफिया एजेंसी आईएसआई के खिलाफ लोग फिर सड़कों पर उतरे हैं। लोगों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की सरकार के खिलाफ प्रदर्शन और नारेबाजी भी की। प्रदर्शन करने वाले लोग ऑल पार्टीज नेशनल अलाएंस (एपीएनए) के चेयरमैन आरिफ शाहिद के मर्डर की इंडिपेंडेंट जांच की मांग कर रहे हैं।
बता दें कि मुजफ्फराबाद, गिलगिट, कोटली समेत पीओके के दूसरे इलाकों में विरोध हो रहा है। पिछले दिनों मोदी ने कश्मीर मुद्दे पर मीटिंग के दौरान कहा था कि पीओके भी भारत का हिस्सा है। यहां स्थानीय लोग पाकिस्तान की सरकार और सुरक्षा एजेंसी आइएसआइ का विरोध कर रहे हैं। कोटली में स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन करते हुए यरमैन आरिफ शाहिद के मर्डर की इंडिपेंडेंट जांच की मांग की है। बता दें कि शाहिद जम्मू-कश्मीर नेशनल लिबरेशन कॉन्फ्रेंस के प्रेसिडेंट भी थे।
ज्ञात हो कि शाहिद को 14 मई, 2013 को राउलपिंडी में उनके घर के बाहर गोली मार दी गई थी। लोगों का आरोप है कि उनका मर्डर आईएसआई ने कराया है। करीब 4 साल हो जाने के बाद भी जांच कोई ठोस नतीजे पर नहीं पहुंची है। वही इस मामले में प्रदर्शन आरिफ शहीद एक्शन कमेटी के बैनर तले किया गया है।
यहां हम आपको बता दें कि पीओके में लोग आइएसआइ का विरोध कर रहे हैं, लोगों का कहना है कि यहां जबरन जिहाद करवाया जाता है। लेकिन जब लोग जिहाद या आतंकी वारदातों में शामिल होने से इनकार कर दते हैं तो पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई उन्हें उठाकर ले जा रही है और परेशान कर रही है। इसी के खिलाफ पीओके में आवाज उठनी शुरू हो गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के मुजफ्फराबाद, गिलगित और कटोली जैसे इलाकों में लोगों का गुस्सा पाकिस्तान सरकार के खिलाफ लगातार बढ़ रहा है।
वहीं पाकिस्तान सरकार ने इस मामले में भारत पर आरोप लगाए हैं। पाकिस्तान के नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर सरताज अजीज ने कहा कि, 'भारत पीओके में माहौल खराब करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने इसे इंडियन मीडिया का प्रोपेगैंडा करार दिया है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top