Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जॉर्डन के बाद फलस्तीन पहुंचे पीएम मोदी, गार्ड ऑफ ऑनर से हुआ जोरदार स्वागत

तीन देशों की चार दिवसीय यात्रा पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जॉर्डन से फिलिस्तीन पहुंच चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत की तरफ से फिलिस्तीन जाने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं।

जॉर्डन के बाद फलस्तीन पहुंचे पीएम मोदी, गार्ड ऑफ ऑनर से हुआ जोरदार स्वागत
X

तीन देशों की चार दिवसीय यात्रा पर निकले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जॉर्डन से फिलिस्तीन पहुंचे। जहां उनका गार्ड ऑफ ऑनर से जोरदार स्वागत हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत की तरफ से फिलिस्तीन जाने वाले पहले प्रधानमंत्री हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रामल्लाह में यासिर अराफात म्यूजियम भी जाएंगे। इसके बाद पीएम मोदी फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास समेत वहां के नेतृत्व के साथ आपसी संबंधों के विभिन्न आयामों पर चर्चा करेंगे।

इसे भी पढ़ेंः राफेल सौदे पर बड़े झूठ की तकनीक अपना रहे हैं राहुल: भाजपा

फिलीस्तीन का दौरा बेहद अहम है क्योंकि वहां के प्रधानमंत्री ने मोदी को वर्ल्ड लीडर कहा है और मदद मांगी है। इसकी वजह साफ है कि पीएम मोदी ने इजरायल से भी गहरी दोस्ती गांठ ली है और फिलीस्तीन से भारत का नाता तो काफी पुराना है। प्रधानमंत्री मोदी फिलीस्तीन जाने वाले भारत के पहले प्रधानमंत्री हैं।

प्रधानमंत्री मोदी का फिलिस्तीन दौरा

भारत ने फिलीस्तीन को बुनियादी क्षेत्र में विकास के लिए मदद की है। 2015 में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी फिलीस्तीन की यात्रा पर गए थे। प्रणब मुखर्जी की यात्रा के बाद से फिलीस्तीन में तीन करोड़ डॉलर की परियोजनाओं पर काम शुरू हो चुका है।

मोदी की यात्रा के दौरान स्वास्थ्य, सूचना प्रौद्योगिकी, पर्यटन, खेल और कृषि के क्षेत्र में बातचीत होगी। भारत अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर लगातार फिलीस्तीन का समर्थन करता रहा है। भारत ने ट्रंप के येरुशलम को इजरायल की राजधानी के एलान के खिलाफ भारत ने UN में वोटिंग की थी।

बीते शुक्रवार रात को प्रधानमंत्री जॉर्डन पहुंचे। जॉडर्न की राजधानी अम्मान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जोरदार स्वागत किया गया। मोदी के स्वागत में होटल फोर सीशंस के बाहर भारतीय समुदाय के लोगों ने भारत माता की जय के नारे भी लगाए।

जॉर्डन किंग से की बातचीत

यहां मोदी ने लोगों के साथ सेल्फी भी खिंचवाई और बच्चों से बात भी की। मोदी ने इसके बाद जॉर्डन के किंग अब्दुल्ला द्वितीय से मुलाकात की। जॉर्डन के किंग के साथ मुलाकात के बाद मोदी ने ट्वीट किया, 'जॉर्डन के शासक किंग अब्दुल्ला द्वितीय के साथ एक शानदार बैठक हुई। हमारी चर्चा भारत और जॉर्डन के द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती देगी।'

1950 से भारत और जॉर्डन की दोस्ती

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट कर जानकारी दी कि प्रधानमंत्री मोदी ने फिलीस्तीन यात्रा के लिए सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए किंग का आभार प्रकट किया। पिछले 30 सालों में किसी भारतीय प्रधानमंत्री की यह पहली जॉर्डन यात्रा है। 1950 में राजनयिक संबंधों के शुरू होने के साथ ही भारत और जॉर्डन का दोस्ताना रिश्ता रहा है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story