Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जनता के आए ''अच्छे दिन'', केंद्र सरकार ने महंगाई को किया नियंत्रित: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा, सुदृढ़ अर्थव्यवस्था के लिए भरोसेमंद सरकार आवश्यक होती है।

जनता के आए

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने पिछले एक वर्ष में डांवाडोल अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने, महंगाई पर काबू पाने और निवेशकों के विश्वास को बढ़ाने का काम किया, साथ ही आने वाले दिलों में लोगों की ऊची अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए पूरे संकल्प से काम करने का वादा किया। अपनी सरकार के एक वर्ष पूरे होने के अवसर पर देशवासियों को लिखे खुले पत्र में प्रधानमंत्री ने कहा, सुदृढ़ अर्थव्यवस्था के लिए भरोसेमंद सरकार आवश्यक होती है। जब हमारी सरकार बनी, उस समय आर्थिक स्थिति डांवाडोल थी। महंगाई तेजी से बढ़ रही थी।

सरकारी बैंक कर्मियों के वेतन में हुई 15% की बढ़त, महीने में मिलेगी दो शनिवार की छुट्टी

मुझे खुशी है कि हमारे प्रयासों से विगत एक वर्ष में भारत सबसे तेजी से वृद्धि करने वाली अर्थव्यवस्था बनी, महंगाई नियंत्रित हुई और पूरे वातावरण में नए उत्साह का संचार हुआ। आर्थिक मोर्चे पर सरकार की एक वर्ष की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा, विश्व स्तर पर भारत की प्रतिष्ठा बढ़ी है। पंूजी निवेश बढ़ा है। उन्होंने कहा, हमारी सकारात्मक दृष्टि की दुनिया भर की अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं और रेटिंग एजेंसियों ने सराहना की। उन्होंने कहा कि सरकार ने डीजल को नियंत्रण मुक्त करने, रक्षा और बीमा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश सीमा को बढ़ाने और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को लागू करने की दिशा में आगे बढ़ने जैसे काफी समय से लंबित कई साहसी सुधार कार्यक्रमों की दिशा में पहल की। मोदी ने कहा, प्रथम वर्ष में विकास यात्रा की मजबूत नींव से देश ने खोया विश्वास पाया है। मुझे भरोसा है कि हमारे प्रयासों ने आपकी जिंदगी को छुआ होगा। यह मात्र शुरुआत है। देश आगे बढ़ने को तैयार है।
हम सब संकल्प ले कि हमारा हर कदम देशहित में आगे बढ़ें।हमने जोड़ने का काम कियामोदी ने अपने खुले पत्र में लिखा, भ्रष्टाचार मुक्त पारदर्शी, नीति आधारित प्रशासन और शीघ्र निर्णय हमारे मूलभूत सिद्धांत हैं। पहले प्राकृतिक संपदा जैसे कोयला या स्पेक्ट्रम का अवंटन मनमानी से, चहेते उद्योगपतियों को होता था। किन्तु देश के संसाधन देश की संपत्ति है। सरकार का मुखिया होने के नाते मैं उसका ट्रस्टी हूं। इसलिए हमने निर्णय किया कि इनका आवंटन नीलामी से होगा। कोयले के अब तक हुए आवंटन से लगभग तीन लाख करोड़ रुपए और स्पेक्ट्रम से एक लाख करोड़ रुपए की आमदनी होगी।
प्रधानमंत्री ने कहा, हमने जोड़ने का काम किया है। देश की सीमाओं, बंदरगाहों और पूरे भारत को एक कोने से दूसरे कोने तक जोड़ने के लिए सड़कें और रेलवे को नया जीवन देने का प्रयास किया। लोगों को जोड़ने के लिए डिजिटल इंडिया और सभी मुख्यमंत्रियों के साथ टीम इंडिया की अवधारणा दूरियां मिटाने का प्रयास है। किसानों के बारे में उन्होंने कहा, हमारे अन्नदाता सुखी रहें यह हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। हमारे किसान अथक मेहनत कर देश को खाद्य सुरक्षा प्रदान करते हैं। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, बिजली व्यवस्था, नई यूरिया नीति और भू-स्वास्थ्य कार्ड कृषि विकास के लिये हमारी प्रतिबद्धता है।8 फीसदी वृद्धि दर पाने का भरोसाभारतीय अर्थव्यवस्था के चालू वित्त वर्ष में 8 प्रतिशत वृद्धि हासिल करने की उम्मीद है जो 2014.15 में 7.4 प्रतिशत थी। राजकोषीय घाटा एक वर्ष पहले के 4 प्रतिशत से घटकर इस वित्त वर्ष में 3.9 प्रतिशत रहने का अनुमान है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, अन्य जानकारी-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top